ममता के ख़िलाफ़ माओवादियों के कथित पर्चे

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption ममता ने माओवादियों से सात दिनों में हथियार छोड़ने को कहा था

पश्चिम बंगाल में माओवादियों ने कथित रुप से पोस्टर जारी कर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से अपने चुनावी वादे पूरे करने और जेल में बंद माओवादियों को छोड़ने के लिए कहा है.

मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शनिवार को झाड़ग्राम में एक जनसभा में कहा था कि माओवादियों को हथियार डालने के लिए सात दिनों का समय दिया जाता है और सरकार माओवादियों की हिंसा और बर्दाश्त नहीं करेगी.

ममता के इस बयान के बाद जंगलमहल इलाक़े में कई स्थानों पर पोस्टर देखे गए हैं जो कथित रुप से सीपीआई (माओवादी) के बताए जाते हैं.

इन पोस्टरों में कहा गया है कि ‘‘ अगर वादे पूरे नहीं किए गए तो तृणमूल कांग्रेस के नेताओं को जान से हाथ धोना पड़ेगा.’’

माओवादियों की मांग है कि जंगलमहल के इलाक़ों से संयुक्त सुरक्षा बलों को हटाया जाए और जेल में बंद माओवादियों को छोड़ा जाए.

पुलिस के अनुसार सालबोनी इलाक़े में ऐसे तीन पोस्टर मिले हैं और ये तीनों बांग्ला में लिखे गए हैं और सीपीआई (माओवादी) के हस्ताक्षर किए हुए हैं.

इन पोस्टरों में तृणमूल कांग्रेस से समग्र विकास की मांग की गई है.

पश्चिमी मिदनापुर ज़िले के ज़िलाधीश सुरेंद्र गुप्ता ने कहा है कि सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस से मामले की जांच करने को कहा गया है.

संबंधित समाचार