'जब पेट ख़राब होगा तब पता चलेगा'

राहुल गाँधी इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption राहुल ने मायावती सरकार पर केंद्रीय फ़ंड के दुरुपयोग का आरोप लगाया

उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए एक तरह से अभियान की शुरुआत करते हुए कांग्रेस नेता राहुल गाँधी ने राज्य सरकार पर भ्रष्टाचार का आरोप लगाया है.

इलाहाबाद के नज़दीक़ फूलपुर में एक रैली को संबोधित करते हुए राहुल ने जनता से जुड़े मुद्दे उठाए और प्रदेश सरकार को घेरने की कोशिश करते हुए कहा कि न तो मनरेगा का पैसा लोगों तक पहुँचा है न ही बुंदेलखंड के लिए केंद्र ने जो पैकेज दिया उसका पैसा.

कांग्रेस महासचिव राहुल ने लोगों को विश्वास दिलाया कि उनकी पार्टी सख़्त लोकपाल विधेयक लाने के पक्ष में है.

उन्होंने प्रदेश को पिछड़ा बताते हुए कहा, "जब तक नेता ग़रीब के घर की रोटी नहीं खाएगा, उसकी मजबूरी को अपनी आँखों से नहीं देखेगा तब उसको ग़रीबी की समस्या समझ में नहीं आएगी."

कांग्रेस के युवराज कहे जाने वाले राहुल का कहना था, "जब तक नेता गंदा पानी नहीं पिएगा, उसका पेट नहीं ख़राब होगा, उसे बीमारी नहीं होगी उसे ग़रीबी के बारे में समझ नहीं आ सकता."

राहुल ने राज्य की मुख्यमंत्री मायावती और समाजवादी पार्टी प्रमुख मुलायम सिंह यादव पर ग़रीबों की अनदेखी करने का आरोप लगाते हुए कहा कि वे अब सत्ता की होड़ में शामिल हो गए हैं.

'ग़ुस्सा मर गया है'

राहुल का कहना था, "जब तक नेता ग़रीबों की हालत नहीं समझेंगे उन्हें ग़ुस्सा नहीं आएगा, आज मायावती या मुलायम सिंह में ये ग़ुस्सा मर गया है क्योंकि वे सत्ता के पीछे दौड़ रहे हैं. सत्ता खोज रहे हैं."

कांग्रेस महासचिव ने एक बार फिर भट्टा पारसौल का ज़िक्र किया और कहा, "भट्टा पारसौल में सरकार ने लोगों पर अत्याचार किए और उसकी कोई सुनवाई नहीं हुई. यूपी सरकार किसान को और हक़ माँगने वालों को नक्सलवादी बताकर उन पर गोलियाँ चलवा देती है."

अंत में राहुल ने युवाओं का आह्वान करते हुए कहा, "जब तक युवा खड़ा नहीं होगा कोई आपकी मदद नहीं कर सकता. कब जगोगे, कब तक आप महाराष्ट्र में भीख माँगोगे, पंजाब में जाकर मज़दूरी करोगे, मैं आपसे जवाब चाहता हूँ."

माना जा रहा है कि राहुल प्रदेश में ऐसी कई और रैलियाँ करके कांग्रेस पार्टी में एक बार फिर जान फूँकने की जी-तोड़ कोशिश करने वाले हैं क्योंकि उससे पार्टी पर उनकी पकड़ को राष्ट्रीय स्तर पर और मान्यता मिलेगी.

संबंधित समाचार