हावड़ा-देहरादून एक्सप्रेस में आग, सात की मौत

  • 22 नवंबर 2011
भारतीय रेल (फ़ाइल फ़ोटो) इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption ट्रेन के बाक़ी डिब्बों को दुर्घटनाग्रस्त कोचों से अलग करके दो अलग-अलग स्टेशनों पर ले जाया गया है (फ़ोटो-बिजय कुमार)

अधिकारियों का कहना है कि मंगलवार को तड़के हावड़ा देहरादून एक्सप्रेस के दो एसी कोच में लगी आग की वजह से कम से कम सात लोगों की मौत हो गई है.

धनबाद के रेलवे अधिकारियों से प्राप्त जानकारी के मुताबिक सात मृतकों में एक ऑस्ट्रेलियाई शोधकर्ता भी है. ये शोधकर्ता उन चार ऑस्ट्रेलियाई लोगों के ग्रुप में थे जो गया जा रहा थे.

इसमें 15 से अधिक लोगों के घायल होने की भी ख़बरें हैं. घायलों में तीन रूसी लड़कियाँ भी शामिल हैं जो हावड़ा से देहरादून जा रही थीं.

धनबाद के पुलिस अधीक्षक अमोल होनकर ने सात लोगों के मारे जाने की पुष्टि की है.

अधिकारियों का कहना है कि हताहतों की संख्या बढ़ सकती है. आग झारखंड के धनबाद डिविज़न में पारसनाथ और नीमियाघाट स्टेशनों के बीच आग लगी.

रेलवे की राहत टीम ने कई घंटे घटनास्थल पर बिताए हैं.

घटना

अधिकारियों का कहना है कि रात क़रीब ढाई बजे ट्रेन के बी-1 कोच में पहले आग लगी जो बाद में बी-2 तक फैल गई.

चूंकि इस समय अधिकतर यात्री सो रहे थे.

बताया जा रहा है कि मरने वालों में एक महिला और उनकी चार साल की बेटी है.

अभी दुर्घटना की वजहों का पता नहीं चला है. लेकिन जो यात्री बचकर निकले हैं उन्होंने स्थानीय पत्रकारों को बताया है कि कोच में एसी बहुत तेज़ चल रहा था और उन्होंने इसकी शिकायत भी अटेंडेंट से की थी.

इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption घायलों को अस्पताल ले जाया गया है

उनका कहना है कि हो सकता है कि इसकी वजह से शॉर्ट सर्किट हो गया हो. जबकि कुछ लोगों का कहना है कि किसी ने एसी को हीटिंग मोड में डाल दिया था, जिससे ये हादसा हुआ.

यात्रियों का कहना है कि धीरे-धीरे कोच में धुँआ भरने लगा और फिर आग फैल गई. चूंकि यात्री सो रहे थे इसलिए ज़्यादातर लोगों को पता ही नहीं चला.

रेलवे की राहत टीम इस पहाड़ी इलाक़े में कई घंटों बाद पहुँच सकी.

इन दो कोचों को छोड़कर ट्रेन को दो हिस्सों में वहाँ से हटा लिया है.

इन कोचों का पीछे का हिस्सा गोमोह स्टेशन पर ले जाया गया है जबकि आगे का हिस्सा पारसनाथ स्टेशन पर ले जाया गया है.

कोच में लगी आग को बुझाने के प्रयास किए जा रहे हैं.

रेलवे ने यात्रियों के परिजनों के लिए हेल्पलाइन नंबर स्थापित किए हैं, ये नंबर 033-26413660, 033-26402243 और 032-62220518 हैं.

संबंधित समाचार