'रिटेल में विदेशी हिस्सेदारी स्थगित'

  • 4 दिसंबर 2011
किराना दुकान इमेज कॉपीरइट AFP
Image caption रिटेल में विदेशी हिस्सेदारी के मुद्दे को लेकर पिछले हफ़्ते संसद की कार्रवाई ठप रही थी

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि केंद्र सरकार ने रिटेल क्षेत्र में प्रत्यक्ष पूंजी निवेश के फ़ैसले पर फ़िलहाल रोक लगा दी है.

सरकार की तरफ़ से इस विषय पर अभी कोई बयान नहीं आया है. ममता बनर्जी ने केंद्रीय वित्त मंत्री प्रणब मुखर्जी के साथ टेलीफ़ोन पर बातचीत करने के बाद ये घोषणा की. प्रणब मुखर्जी ने इस विषय पर कुछ भी बोलने से इंकार कर दिया है.

उनका कहना था कि इस बारे में कोई आधिकारिक बयान संसद के भीतर दिया जाएगा. ममता बनर्जी की पार्टी तृणामूल कांग्रेस केंद्रीय कैबिनेट के रिटेल क्षेत्र में विदेशी कंपनियों को 51 प्रतिशत भागेदारी दिए जाने वाले फ़ैसले के ख़िलाफ़ है.

मामला स्थगित

ममता बनर्जी ने कोलकाता में पत्रकारों को बताया, “ये रोक अस्थाई नहीं है. जब तक इस विषय पर आम सहमति नहीं बनती है, इसे स्थगित रखा जाएगा. अब मामला साफ़ है और आप प्रणब मुखर्जी से पूछ सकते हैं.”

प्रणब मुखर्जी शनिवार को कोलकाता में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की बीमार मां का हाल पूछने गए थे.

उन्होंने पत्रकारों को बताया, “संसद का सत्र चालू है इसलिए मैं कुछ नहीं बोलूंगा. सरकार के किसी भी निर्णय की घोषणा संसद में ही की जाएगी. ”

विपक्ष के अलावा तृणामूल कांग्रेस और डीएमके भी कैबिनेट के इस फ़ैसले के ख़िलाफ़ हैं. इन दोनों दलों के लोकसभा में 18-18 सांसद हैं.

उधर दिल्ली में भाजपा और सीपीआई ने कहा है कि सरकार को संसद में बयान जारी कर इस मामले पर अपनी स्थिति साफ़ कर देनी चाहिए.

संसद के दोनों सदनों में बीता हफ़्ता इसी मुद्दे की भेंट चढ़ गया था. सारा विपक्ष एकजुट होकर रिटेल क्षेत्र 51 प्रतिशत की विदेशी भागेदारी के फ़ैसले को वापस लिए जाने की मांग पर अड़ा था.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार