गिरते रूपए को बचाने के लिए पूजा पाठ

रूपए
Image caption श्रद्धालु चाहते है कि उनके भगवान अमरीकी डॉलर की तुलना में रूपए की गिरती हुई कीमत को संभाल लें

अमरीकी डॉलर के मुक़ाबले भारतीय रूपए की क़ीमत में लगातार हो रही गिरावट से घबराए लोगों ने अब सीधे भगवान से सहारा मांगा है.

हैदराबाद के पास स्थित मशहूर बालाजी मंदिर में रूपए का दाम और कम होने से बचाने के लिए विशेष पूजा आयोजित की गई है.

शहर से लगभग 35 किलोमीटर दूर चिल्कुर गाँव में स्थित बालाजी मंदिर में यह पूजा बुधवार की सुबह आयोजित की गई जिसमे भारी संख्या में लोग शरीक़ हुए.

मंदिर के महापुजारी एम वी सौंदर्य राजन ने बताया की इस आयोजन में पूरे विधी विधान से पूजा और विशेष मंत्रोच्चार की गई.

लोगों का मानना है कि चिक्लुर बालाजी मंदिर में इस तरह की पूजा का काफ़ी महत्व होता है.

'वीज़ा बालाजी'

ये मंदिर वीज़ा बालाजी के नाम से भी जाना जाता है और ये उन लोगों में काफ़ी लोकप्रिय है जो विदेश, ख़ासकर अमरीका जाने के लिए वीज़ा लेने का प्रयास कर रहे होते है.

लोगों की ये आस्था है कि इस मंदिर में पूजा करने से उन्हें अमरीका का वीज़ा आसानी से मिल जाता है.

श्रद्धालु अब चाहते है कि उनके भगवान अमरीकी डॉलर की तुलना में रूपए की गिरती हुई क़ीमत को संभाल लें.

मंदिर के एक अधिकारी रंगराजन चिल्कुर ने कहा कि ये मंदिर हमेशा ही इस तरह की समस्याओं और संकट के समय पर विशेष पूजा का आयोजन करता रहा है.

रंगराजन चिल्कुर ने कहा, "हम हमेशा ही आधुनिक समस्याओं और विषयों पर अपनी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हैं."

बुनकरों की आर्थिक समस्या कुछ हद तक सुलझाने के लिए इस मंदिर ने पूजा करने के लिए आने वालों से आग्रह किया है कि वो हथकरघे से बने कपडे़ पहनकर ही मंदिर आए.

इधर रूपए के मूल्य में गिरावट लगातार जारी है, गुरूवार को एक डॉलर की क़ीमत 53.65 रूपए रही.

संबंधित समाचार