कांग्रेस ने भी खोला वादों का पिटारा

  • 27 जनवरी 2012
सलमान ख़ुर्शीद इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption लखनऊ में सलमान ख़ुर्शीद ने कांग्रेस का दृष्टि पत्र जारी किया

कांग्रेस पार्टी ने शुक्रवार को उत्तर प्रदेश प्रदेश विधान सभा चुनाव के लिए नौ सूत्री दृष्टि पत्र जारी किया है.

इस दृष्टि पत्र में राज्य के विकास, रोज़गार में वृद्धि और सामाजिक न्याय का खाका खींचा गया है. यह दृष्टि पत्र 11 बड़े शहरों से एक साथ जारी किया गया.

केंद्रीय क़ानून मंत्री सलमान ख़ुर्शीद ने लखनऊ में दृष्टि पत्र जारी करते हुए कहा कि केंद्र की कांग्रेस सरकार ने जो कुछ कर दिखाया है, वही इस दृष्टि पत्र का आधार है.

कांग्रेस ने सत्ता में आने पर पांच साल में 20 लाख रोज़गार के अवसर उपलब्ध कराने की बात कही है. दृष्टि पत्र में शिक्षा और सामाजिक न्याय पर विशेष ध्यान दिया गया है.

विकास

आम आदमी के लिए विकास के नौ सूत्रों को न्याय, अधिकार और विकास तीन वर्गों में बांटा गया है.

ये नौ सूत्र हैं- जीविका और रोज़गार, समता और सम्मान, सुरक्षा, पारदर्शी और जवाबदेह सरकार, बिजली पानी, सड़क परिवहन, शिक्षा का अधिकार और आधुनिक तकनीक, स्वास्थ्य सुविधा, पोषक आहार, विकसित शहर, कस्बे और गाँव.

इमेज कॉपीरइट AP
Image caption कांग्रेस ने रोज़गार के और अवसर लाने का वादा किया है

कांग्रेस ने कहा है कि वह छोटे व्यवसायों के लिए अनुकूल माहौल बनाएगी और 40 मज़बूत औद्योगिक समूहों का निर्माण करेगी. इनमें हथकरघा, बुनाई, कालीन, मिटटी के बर्तन, छपाई और इत्र, ताला उद्योग शामिल हैं.

छोटे किसानों और भूमिहीनों की आमदनी बढाने के लिए दुग्ध क्रांति लाने की बात कही गई है.

सामाजिक न्याय में दलित और पिछड़े वर्गों के सशक्तिकरण की बात कही गयी है. एक नई बात यह कही गई है कि अन्य पिछड़े वर्गों के कोटे में से अति पिछड़ों को कोटा देने की दिशा में काम किया जाएगा.

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष रीता बहुगुणा जोशी ने बताया कि इस दृष्टि पत्र के आधार पर विस्तृत घोषणा पत्र 30 जनवरी को जारी किया जाएगा.

संबंधित समाचार