वोट पर विवाद में पत्नी को जलाया

उत्तराखंड
Image caption उत्तराखंड में आमतौर पर मतदान शांतिपूर्ण रहा है

उत्तराखंड के लालकुंआ विधानसभा क्षेत्र में दिल दहला देने वाली घटना में वोट देने पर हुए विवाद में एक व्यक्ति ने अपनी पत्नी को जिंदा जला दिया है.

ये घटना हलद्वानी से करीब 40 किमी दूर लालकुंआ विधानसभा क्षेत्र के अंबेडकर नगर की है.रईस नाम का ये युवक मज़दूरी करता था .

ऐसा बताया जा रहा है कि किसी राजनैतिक दल ने इस इलाके में पैसे बांटे थे और रईस को भी पैसे मिले थे.विवाद इस बात पर हुआ कि किसे वोट देना है.रईस चाहता था कि उसकी पत्नी उसी दल को वोट दे जिसने पैसे दिये थे जबकि उसकी पत्नी ने ऐसा करने से मना कर दिया.

इस पर दोनों में काफी कहासुनी हुई और बात इतनी बढ़ गई कि गुस्से और उत्तेजना में उसने अपनी पत्नी पर तेल छिड़क कर आग लगा दी.

हादसे में उसकी पत्नी गुलफ्शां 90 प्रतिशत से अधिक जल गई. उसे अस्पताल ले जाया गया जहां दो घंटे तक उसकी मौत हो गई.

पुलिस ने रईस को बदहवास हालत में मौके से गिरफ्तार कर लिया है और उसके बयान दर्ज़ कर लिये हैं.

हैरान हैं लोग

रईस ने अपने बचाव में बताया है कि पत्नी उसका कहना नहीं मान रही थी जबकि वो सिर्फ इतना चाहता था कि वो उसके कहे अनुसार वोट दे. लेकिन जब उसने कहा नहीं माना तो वो आपा खो बैठा.

हलद्वानी के पुलिस अधीक्षक जगदीश सिंह भंडारी के अनुसार अभी घटना की जांच की जा रही है. इसके बाद ही सही कारणों का पता चलेगा.

स्थानीय पत्रकार अजय कुमार सिंह ने बताया कि रईस के आस-पड़ोस में रहनेवाले लोग इस घटना से सकते में थे और हैरान हो रहे थे क्योंकि उनके अनुसार रईस और उसकी पत्नी के रिश्ते अच्छे थे और कभी उनके बीच में मारपीट जैसी नौबत भी नहीं आती थी.

हलद्वानी के लालकुंआ विधानसभा क्षेत्र में मुख्य मुकाबला कांग्रेस के हरेंद्र बोरा, बीजेपी के नवीन दुमका और निर्दलीय हरीश दुर्गापाल के बीच हो रहा है.

वैसे उत्तराखंड में आमतौर पर मतदान शांतिपूर्ण रहा है और हिंसा की कोई घटना नहीं हुई है. एक घटना में हरिद्वार में चुनाव ड्यूटी पर तैनात

सीआईएसएफ के एक कमांडेंट की दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई है.

संबंधित समाचार