मायावती के लिए कुछ भी करेगा.....

  • 18 फरवरी 2012
इमेज कॉपीरइट AP

उत्तर प्रदेश की मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी की सुप्रीमो मायावती भले ही कई लोगों के आँखों में खटक रही हों, लेकिन एजाज क़ुरैशी और उनके साथियों के लिए माया नाम सब कुछ है.

जब मैं लखनऊ के इमामबाड़ा इलाक़े में स्थित हुसैनाबाद बस्ती में पहुँचा, तो एजाज कुरैशी का माया प्रेम दूर से ही दिख गया. हालाँकि वहाँ उनका विरोध करने वाले भी कुछ इक्का-दुक्का लोग मौजूद थे.

लेकिन तेज़-तर्रार एजाज क़ुरैशी ने अपने तर्कों से सबको मात देने की कोशिश की. वे कहते हैं, "मायावती ने लखनऊ को चंदन की तरह चमका दिया. लखनऊ आने वाले पर्यटकों के लिए इमामबाड़ा के अलावा इतने बड़े-बड़े पार्कों का निर्माण आकर्षण का केंद्र हैं. मायावती को ही जीतना चाहिए."

एजाज कुरैशी मायावती के पाँच साल के राज की कुछ अहम चीज़ें यूँ गिनवाते हैं- 'ग़रीबों को मकान दिया, पेंशन दी, कुछ माताओं-बहनों को शादी के लिए पैसा मिला और सबसे बड़ी बात ये है कि गुंडाराज नहीं रहा. माँ-बहनें सुरक्षित हैं. प्रशासन काफ़ी सख्त है.'

ये अलग बात है कि मायावती के विरोधी अपनी जनसभाओं में इन्हीं योजनाओं से वंचित लोगों और प्रशासन के आम लोगों के प्रति उदासीन होने के मुद्दे ज़ोरशोर से उठा रहे हैं.

आरोप

मायावती सरकार पर लग रहे भ्रष्टाचार के आरोपों पर वे कहते हैं कि मायावती ने सभी भ्रष्टाचारियों को पार्टी से निकाल बाहर किया है.

लेकिन इतनी देर से क्यों, इस सवाल के जवाब में वे कहते हैं कि जब उन्हें पता चला उन्होंने निकाल बाहर किया.

तो कुल मिलाकर बात ये कि एजाज कुरैशी मायावती के ख़िलाफ़ कुछ भी सुनने को तैयार नहीं हैं.

अपनी ड्राई क्लीनर्स की दुकान में मायावती के छोटे-छोटे स्टिकर लगाकर रखने के अलावा वे अपने काम में से भी समय निकालकर लोगों को मायावती के पक्ष में करने की कोशिश करते हैं.

एजाज कुरैशी को कांग्रेस से कोई उम्मीद नहीं है. उनका कहना है कि कांग्रेस अभी उत्तर प्रदेश में काफ़ी पीछे है.

संबंधित समाचार