प्लेबैक आपके उपकरण पर नहीं हो पा रहा

कहाँ गया 'चाल, चेहरा और चरित्र'

  • 22 मार्च 2012

कर्नाटक में येदियुरप्पा का मुख्यमंत्री पद के लिए दबाव और झारखंड में राज्य सभा चुनाव ने बीजेपी के सामने ये सवाल खड़ा कर दिया है कि अनुशासन और शुचिता का दम भरने वाली बीजेपी अब दूसरी पार्टियों से अलग कैसे है.

कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने न केवल खुद को दोबारा मुख्यमंत्री बनाने के लिए पचास से ज्यादा विधायकों के साथ दबाव बनाया बल्कि पार्टी हाईकमान नितिन गडकरी के आदेश की अवहेलना करते हुए चिकमंगलूर लोकसभा चुनाव में प्रचार तक नहीं करने गए.

वहीं झारखंड में निर्दलीय अंशुमान मिश्रा को राज्यसभा की सीट दिलवाने को लेकर बीजेपी के भीतर चली खींचतान ने भी पार्टी की किरकिरी करवाई. क्या बीजेपी आगे बढ़ने की बजाए लगातार पीछे खिसक रही है. यही सवाल किया बीबीसी संवाददाता अमरेश द्विवेदी ने राजनीतिक विश्लेषक प्रदीप कौशल से.