साथ लंच करेंगे जरदारी-मनमोहन

जरदारी इमेज कॉपीरइट Reuters
Image caption सरकार उनके एक दिवसीय दौरे पर कुछ राजनीतिक चर्चा शामिल करने की संभावना तलाश रही है.

पाकिस्तान के राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से आठ अप्रैल को दिल्ली में मिलेंगे.

राष्ट्रपति के प्रवक्ता ने बताया की जरदारी आठ अप्रैल को अजमेर आ रहे हैं जहां उनके ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती की दरगाह पर जियारत करने की संभावना है.

अपनी इस एकदिवसीय भारत की यात्रा में राष्ट्रपति जरदारी प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से भोजन पर मिलेंगे और उसके बाद वो अजमेर जाएंगे.

इस यात्रा का उद्देश्य धार्मिक है. लेकिन पाकिस्तानी सरकार उनके एक दिवसीय दौरे पर कुछ राजनीतिक चर्चा शामिल करने की संभावना भी तलाश रही है.

राष्ट्रपति के प्रवक्ता फरातुल्लाह बाबर ने इस यात्रा की पुष्टि की है.

समाचार एजेंसी एएफपी के अनुसार बाबर ने कहा, ''राष्ट्रपति ने अजमेर शरीफ के रास्ते में भारत के प्रधानमंत्री का नई दिल्ली में भोजन का निमंत्रण भी स्वीकार कर लिया है.''

पाकिस्तान के राष्ट्रपति ने साल 2009 में रूस में एससीओ सम्मेलन के अवसर पर प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह से अंतिम बार मुलाकात की थी.

किसी भी पाकिस्तानी प्रमुख की साल 2005 के बाद से यह पहली यात्रा होगी.

पाकिस्तान के किसी राष्ट्राध्यक्ष का सात साल में ये पहला भारतीय दौरा होगा.

अजमेर से आ रही रिपोर्टों के मुताबिक जरदारी जिस दिन मजार आएंगे उस दिन मजार को आम लोगों के लिए बंद कर दिया जाएगा.

पिछले साल नवंबर के महीने में पाकिस्तान के प्रधानमंत्री यूसुफ रजा गिलानी और मनमोहन सिंह ने मालदीव में मुलाकात की थी और अपने अशांत इतिहास का नया अध्याय लिखने का वादा किया था.

गौरतलब है कि जरदारी के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामलों को खोलने के लिए पाकिस्तान के सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिया हुआ है.

संबंधित समाचार