माँ ने कहा था हर पाकिस्तानी के दिल में छोटा सा भारत 'बसता' है: बिलावल

इमेज कॉपीरइट AFP

असलाम आलेकुम, भारत आपके यहाँ शांति हो................ बेनजीर भुट्टो और आसिफ अली जरदारी के बेटे बिलावल भुट्टो जरदारी ने पहली भारत यात्रा पर दिल्ली में कदम रखते हुए अपनी भावना इन्हीं शब्दों में बयां की.

भारत में जितनी दिलचस्पी पाकिस्तानी राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी में लोगों ने दिखाई उतनी ही दिलचस्पी लोगों ने बिलावल में दिखाई.

बिलावल अजमेर शरीफ पर जियारत करने के लिए पाकिस्तानी राष्ट्रपति के साथ भारत आए थे. अपनी एक दिन की यात्रा के दौरान उन्होंने अपनी बातें ट्विटर पर लोगों से बाँटी.

उन्होंने लिखा, “राष्ट्रपति और मैने राहुल गांधी और प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के साथ दोपहर का भोजन किया. बहुत अच्छा खाना था. एक दूसरे से बहुत कुछ सीखा जा सकता है.”

पीटीआई के मुताबिक पाकिस्तानी दल को एक से एक लजीज व्यंजन परोसे गए थे जिसमें जैतूनी मुर्ग सीख, गोश्त बड़ा कबाब, भिंडी कुरजुरी और फिरनी शामिल थी.

भारत और पाकिस्तान के आपसी रिश्तों पर भी उन्होंने टिप्पणी की. बिलावल ने लिखा, “ये शर्म की बात है कि दोनों देशों में बड़ी संख्या में लोग गरीबी में रहते हैं और हम इतना पैसा परमाणु हथियारों पर खर्च करते हैं ताकि एक दूसरे को तबाह कर सकें. इस पैसे को स्वास्थ्य सेवा में लगाना चाहिए ताकि हम एक दूसरे के घाव भर सकें, व्यापार में लगाना चाहिए.”

पठानी सूट में आए 23 साल के बिलावल ने अजमेर शरीफ की अपनी यात्रा पर लिखा कि वहाँ जाना काफी शांतिपूर्ण और आध्यात्मिक अनुभव था.

दिल्ली पहुँचने पर बिलावल ने वहाँ मौजूद भारतीय अधिकारियों से हाथ मिलाया और मीडिया का भी हाथ हिलाकर अभिनंदन किया.

ट्विटर पर उन्होंने ये भी लिखा कि ‘शहीद मोहतरमा बेनजीर भुट्टो और उनके नाना शहीद जुल्फीकार अली भुट्टो’ भी अजमेर आए थे.

अपनी माँ को याद करते बिलावल ने ट्विटर पर लिखा, “मेरी माँ ने एक बार कहा था कि हर पाकिस्तानी में कहीं न कहीं भारत बसता है और हर भारतीय के दिल में छोटा सा पाकिस्तान बसता है.”

संबंधित समाचार