येदियुरप्पा के घरों पर सीबीआई के छापे

येदियुरप्पा इमेज कॉपीरइट BBC World Service
Image caption सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद सीबीआई मामले की जांच कर रही है

केंद्रीय जांच ब्यूरो ने बुधवार सुबह कर्नाटक के पूर्व मुख्यमंत्री और भारतीय जनता पार्टी के नेता बीएस येदियुरप्पा के घरों और राज्य में कई स्थानों पर छापे मारे हैं.

जांच एजेंसी ने एक दिन पहले ही अवैध खनन के मामले में युदियुरप्पा के खिलाफ एफआईआर दर्ज किया था.

एक स्थानीय पत्रकार ने बीबीसी को बताया कि बैंगलुरू और शिमोगा में उनके घर के अलावा उनके एक दामाद के घर पर भी छापे मारे गए.

सीबीआई ने सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर येदियुरप्पा सहित उनके बेटों तथा दामाद के खिलाफ एफआईआर दर्ज की थी.

सुप्रीम कोर्ट ने कहा था कि वह उन आरोपों की जांच करे, जिनमें कहा गया है कि पूर्व मुख्यमंत्री येदियुरप्पा के रिश्तेदारों द्वारा संचालित प्रेरणा ट्रस्ट को उन खनन कंपनियों से बड़ी मात्रा में अनुदान प्राप्त हुए थे, जिनका उन्होंने पक्ष लिया था.

यह छापेमारी उसी जांच के तहत बताई जा रही है जो सुप्रीम कोर्ट के निर्देश के बाद सीबीआई कर रही है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के अनुसार छापा मारने वाले दल में हैदराबाद और बैंगलुरू के अधिकारी शामिल थे.

आरोप

युदियुरप्पा को अवैध खनन में मामले में ही अपना पद छोड़ना पड़ा था. वो पिछले कुछ दिनों से इस कोशिश में लगे हैं कि उन्हें दोबारा से प्रदेश का मुख्यमंत्री नियुक्त किया जाए लेकिन उनकी पार्टी ने अभी तक उनकी अनसुनी ही की है.

चंद दिनों पहले ही उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी की प्रशंसा भी की थी और साथ ही अपनी पार्टी के नेताओं के तौर-तरीके पर तीखी टिप्पणियाँ करते हुए कहा था कि वे आलाकमान के रवैये से आहत हैं.

अपने उत्तराधिकारी और कर्नाटक के मुख्यमंत्री सदानंद गौड़ा पर भी हमला करते हुए उन्हें विश्वासघाती कहा था.

संबंधित समाचार