गर्मी की चपेट में उत्तर भारत, बिजली की माँग बढ़ी

  • 26 मई 2012
पंखा सहलाती एक महिला इमेज कॉपीरइट afp
Image caption धूप और गर्मी से लोग परेशान हैं

पूरा उत्तर भारत गर्मी और लू का प्रकोप झेल रहा है और पारा सब जगह 40 डिग्री सेल्सियस के ऊपर चल रहा है.

मीडिया रिपोर्टों के मुताबिक शुक्रवार को न सिर्फ गर्मी ने अपना असर दिखाया लेकिन राजधानी दिल्ली में बिजली की खपत ने भी रिकॉर्ड तोड़ दिया. रिपोर्टों में कहा गया है कि दिल्ली में शुक्रवार दोपहर को बिजली की माँग 5032 मेगावाट तक पहुँच गई थी. गर्मी के कारण दिल्ली में बिजली की माँग हर साल बढ़ जाती है.

दिल्ली में शुक्रवार को दिन भर लू चलती है और तापमान 44 डिग्री दर्ज किया गया जो यहाँ इस बार का अधितकम तापमान है. उत्तर भारत के अन्य राज्यों में भी गर्मी का प्रकोप जारी है.

राजस्थान में श्रीगंगानगर सबसे गरम शहर रहा जहाँ शुक्रवार को पारा 45.7 डिग्री पहुँच गया. कोटा और जयपुर में भी तापमान 45.3 और 43.8 डिग्री रहा.

पंजाब और हरियाणा में भी लोग चिलचिलाती धूप से परेशान हैं और तापमान सामान्य से पाँच डिग्री ऊपर रहा. हरियाणा में हिसार सबसे गरम शहर रहा जबकि नरनौल में पारा 44 तक पहुँच गया. वहीं राजधानी चंडीगढ़ में पारा 41 डिग्री सेल्सियस रहा.

झारखंड में भी गर्मी ने लोगों को अपनी चपेट में ले रखा है और तापमान कई जगह 45 डिग्री तक पहुँच गया. बोकारो और गिरिदिह में तो गर्मी और भी ज्यादा थी और तापमान 46 डिग्री रहा.

उत्तराखंड में भी लोगों को गर्मी से राहत नहीं है. शुक्रवार को देहरादून में इस बार का सबसे गर्म दिना है जब पारा 41.4 रहा. 2004 के बाद से पहली बार मई में देहरादून में तापमान इतने तक पहुँचा है. 2004 में तापमान 41.6 पहुँचा था.

मौसम विभाग कह चुका है कि उसके अनुमान के अनुसार केरल में दक्षिणी पश्चिमी मॉनसून एक जून तक सक्रिय हो जाएगा जिसमें चार दिन इधर उधर हो सकते हैं.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए