18 महीने की बच्ची को सिगरेट से जलाया गया

बेबी शिरीन इमेज कॉपीरइट V Dongre
Image caption शिरीन को अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहाँ उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है

इंदौर में 18 महीने की एक बच्ची के साथ शारीरिक दुर्वय्वहार का मामला सामने आया है.

बेबी शिरीन के शरीर पर सिगरेट से 11 जगहों पर जले होने के निशान थे और हाथ टूटा हुआ था. उसकी हालत खतरे से बाहर बताई गई है.

पुलिस का कहना है कि बच्ची की माँ शबाना के प्रेमी वाहिद ने बच्ची के साथ हफ्तों दुर्वव्यवहार किया.

शिरीन की कहानी दिल्ली की फलक से मिलती है जिसे इससे भी बुरी हालत में एम्स अस्पताल में भर्ती करवाया गया था.

मार्च में फलक की मौत हो गई थी.

इंदौर के एसएसपी साई मनोहर ने बीबीसी को बताया कि शबाना अपने पति से अलग होने के बाद वाहिद के साथ कई जगहों जैसे अजमेर और खांडवा गई जहाँ वाहिद ने शबाना के तीनों बच्चों के साथ दुर्वय्वहार किया.

साई मनोहर कहते हैं, “वाहिद को बच्चों से कोई प्रेम नहीं था, और वो मनोरोगी भी था."

बच्ची की हालत खराब होने के बाद उसे अस्पताल में भर्ती करवाया गया जहाँ उसकी हालत स्थिर बताई जा रही है.

रिपोर्टों के मुताबिक वाहिद ने शबाना को वेश्यावृ्त्ति की ओर ढकेला लेकिन साई मनोहर के मुताबिक अभी तक इस बारे में कोई सुबूत उनके सामने नहीं आए हैं.

शबाना ने टीवी चैनल एनडीटीवी को बताया कि वाहिद उनकी बेटी के साथ मारपीट करता था और उसने ही बच्ची के हाथों की हड्डी को कई जगह से तोड़ दिया.

उसने कहा, “एक दिन जब मैं काम करने बाहर गई, तो उसने मेरी बच्ची के शरीर को बीड़ी से कई जगहों पर जलाया.”

साई मनोहर के मुताबिक वाहिद और शबाना के पति इकबाल की अस्पताल में बच्ची की हालत को लेकर झड़प भी हुई.

उनके मुताबिक वाहिद ने अपना अपराध स्वीकार लिया है.

संबंधित समाचार