बिजली गुल: हम भी हँसे, दुनिया भी हँसी

  • 1 अगस्त 2012
बिजली इमेज कॉपीरइट AP
Image caption बिजली गुल होने से लाखों घरों में बत्तियां बंद हो गई थीं

दुनिया के सबसे बड़े पावरकट पर दुनिया भर में लोगों ने सोशल मीडिया पर चुटकी ली है. हालांकि अब हर जगह बिजली बहाल हो गई है लेकिन सोशल मीडिया ने इस मुद्दे पर प्रशासन पर टिप्पणियां करनी छोड़ी नहीं हैं.

ट्विटर और फेसबुक पर जहां दो दिन में लगातार दूसरी बार ग्रिड फेल होने का लोगों ने जमकर मजाक उड़ाया है वहीं अपनी तकलीफें भी शेयर की हैं.

बिजली जाने से हुई परेशानी

लोगों ने इस मुद्दे पर एक ओर ऊर्जा मंत्री सुशील कुमार शिंदे का पद बढ़ाकर गृह मंत्रालय देने पर भी चुटकियां ली हैं वहीं भारत के सुपरपावर बनने के सपनों पर भी प्रश्न चिन्ह लगाए हैं.

ट्विटर पर रमेश श्रीवत्स लिखते हैं कि सुशील कुमार शिंदे पावर मिनिस्टर थे तो पावर नहीं. अब गृह मंत्री बन रहे हैं तो क्या होगा सोचिए.

कहां गई आपकी बिजली

लोगों ने इस मुद्दे पर इतने ट्विट किए हैं कि सुशील कुमार शिदे ट्विटर पर ट्रेंड करने लगे थे. कुछ और ट्विट्स

@gunjan47- सुशील कुमार शिंदे की किस्मत बहुत अच्छी है. सबसे अंधेरा समय भी उनके लिए सबसे अच्छा समय लाया है

@humbleguy12 – क्या बात है जिस दिन पता चला कि ऊर्जा मंत्री सुशील कुमार शिंदे है उसी दिन वो गृह मंत्री बन गए.

@kirnaks- सुशील कुमार शिंदे शायद पहले गृह मंत्री होंगे जो पूर्व में पुलिस इंस्पेक्टर रह चुके हैं.

@ashdubey- सुशील कुमार शिंदे का मामला दिखाता है कि अगर आप परीक्षा में 100 में से 0 लाते हैं तो आपका प्रमोशन हो जाता है.

ट्विटर पर और प्रतिक्रियाएं देखने के लिए आप #powergridfailure और #sushilkumarshinde से सर्च कर सकते हैं.

उधर फेसबुक पर इस मुद्दे पर काफी बहस हुई है.

बीबीसी हिंदी के पन्ने पर भी लोगों ने कड़ी प्रतिक्रिया दी है.

कई लोगों ने तो ये भी कहा कि यूपी और बिहार के कई इलाकों में बिजली आती ही नहीं इसलिए उनको इस ग्रिड के फेल होने से कोई फर्क नहीं पड़ता है.

फेसबुक पर एक विदेशी लेखक टारक्विन हॉल लिखते हैं- भारत में लाखों लोगों के घरों से बिजली गुम.

लेखक मिर्जा वहीद ने लिखा है. भारत में सबसे बड़ा पावर ब्लैकआउट और ऊर्जा मंत्री को दूसरा सबसे महत्वपूर्ण पद.

संदीप महतो लिखते हैं- पावर मिनिस्टर और पावरफुल राज्य हुए बिना पावर के.

आनंद पांडे लिखते हैं कि हरियाणा और कई अन्य राज्य ज्यादा बिजली ले रहे हैं शायद तभी ये समस्या हो रही है.

संबंधित समाचार