जीन्स पहनी तो होगा 'हमला'

  • 9 अगस्त 2012
झारखंड पोस्टर
Image caption झारखंड में जगह-जगह लगाए गए इन पोस्टरों को पुलिस हटा रही है.

झारखण्ड की राजधानी रांची में कुछ जगहों पर धमकी भरे पोस्टर दिखाई देने पर वहां तनाव की स्थिति पैदा हो गई है.

इन पोस्टरों में लड़कियों के जीन्स पहनने पर पाबंदी के साथ ओढनी लेकर चलने का 'फरमान' जारी किया गया है.

हालांकि पोस्टरों को पुलिस ने ज़ब्त कर लिया है, मगर अभी तक ये पता नहीं चल पाया है कि इसे लगाने वाले लोग कौन हैं, क्योंकि झारखण्ड मुक्ति संघ नाम के संगठन के बारे में पहले किसी नें नहीं सुना है.

संगठन ने इस पोस्टर के माध्यम से कहा है कि जो लड़कियां फरमान की अनदेखी करेंगी तो उनपर और उनके 'घरवालों पर हमले' किए जाएंगें.

इन पोस्टरों से रांची पुलिस और जिला प्रशासन सकते में हैं.

पुलिस का कहना है कि पोस्टर यहां के एक प्रमुख कालेज के साथ-साथ शहर के कई हिस्सों में लगाए गए हैं.

लड़कियों पर पाबंदी के साथ साथ पोस्टर में ज़मीन की खरीद और बिक्री पर पाबंदी और नौकरियों में बाहरी लोगों की बहाली पर पाबंदी की बात भी कही गई है.

'गंभीर नहीं धमकी'

पोस्टर में सबसे ऊपर लिखा है: "झारखंडियों की ज़मीन, नौकरी, संस्कृति एवं अस्मिता की रक्षा हेतु झारखण्ड मुक्ति संघ का गठन".

इसके साथ-साथ इसमें लिखा गया है कि रांची के अल्बर्ट एक्का चौक से चार किलोमीटर की बाद 'बाहरी लोगों को ज़मीन देने या लेने वालों पर हमला होगा'.

इतना ही नहीं, सरकारी नौकरियों में भर्ती होने वाले बाहरी लोगों को मार भगाने की बात भी पर्चे में कही गई है.

पर्चे में कहा गया है: "झारखंडियों को ज़मीन से विस्थापित करने वाली कंपनियों व तंत्रों पर हमला किया जाएगा."

हालांकि बाकी की धमकियों को पुलिस गंभीरता से नहीं ले रही है मगर लड़कियों के जीन्स पहनने और ओढनी लेकर नहीं चलने की बात ने सबकी चिंता बढ़ा दी है.

शहर के विद्यालयों के कुछ प्राध्यापक कहते हैं कि पोस्टर के बाद वो चिंतित हैं और इसलिए उन्होंने लड़कियों को अहतियात बरतने का सुझाव दिया है.

वहीं रांची की पुलिस ने शहर के प्रमुख इलाकों में सशस्त्र बल की तैनाती के है ताकि किसी अप्रिय घटना को रोका जा सके.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार