दिल्ली-आगरा की दूरी हुई आधी

दिल्ली आगरा एक्सप्रेसवे इमेज कॉपीरइट JP group
Image caption यमुना एक्सप्रेसवे पर पहले काफी विवाद भी हो चुका है

भारत की राजधानी दिल्ली और आगरा को जोड़ने वाले नए यमुना एक्सप्रेस वे लोगों के लिए खोल दिया गया है और इस रास्ते ने दोनों शहरों के बीच की दूरी को आधा कर दिया है.

दिल्ली से आगरा जाने में पहले चार घंटे का समय लगता था लेकिन अब जेपी ग्रुप के यमुना एक्सप्रेव के ज़रिए ढाई घंटे में दिल्ली से आगरा पहुंचा जा सकता है.

165 किलोमीटर का यह रास्ता छह लेन का है जो कि ग्रेटर नोएडा होकर गुज़रता है.

इसका उदघाटन उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने वीडियो लिंक के ज़रिए किया है. इस परियोजना को पूरा करने में 13,300 करोड़ रुपए लगे हैं और 16 अगस्त से इस पर टोल टैक्स लगाया जाएगा.

इस रास्ते पर टोल टैक्स ज्यादा रखा गया है. कार के लिए एक तरफ का टोल टैक्स 320 रखा गया है जबकि टू व्हीलर्स के लिए 150 रुपए.

इस परियोजना को पूरा करने के लिए जेपी ग्रुप ने 6,175 एकड़ भूमि अधिगृहित की है और सड़क के किनारे बड़े फ्लैट बनाए जाने की योजना है.

इस योजना पर पूर्व में विवाद हो चुका है और अभी भी भूमि अधिग्रहण को लेकर तनातनी रहती है लेकिन फिलहाल आगरा जाने वाले टूरिस्टों और आम लोगों को एक रास्ता मिल ही गया है जिससे वो जल्दी ये दूरी तय कर सकते हैं.