कसाब की सजा पर फैसला आज

 बुधवार, 29 अगस्त, 2012 को 05:50 IST तक के समाचार
कसाब

26/11 हमलों के मामले में कसाब को फांसी की सजा सुनाई गई है.

मुंबई में हुए 26/11 हमलों के अभियुक्त अजमल कसाब की सजा के मामले में सुप्रीम कोर्ट बुधवार को अपना फैसला सुना सकता है. कसाब को फांसी की सजा दी गई थी.

सजा और अभियोजन के खिलाफ जेल में बंद 25 वर्षीय कसाब ने अदालत में अर्जी दी थी.

सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में कसाब का पक्ष रखने के लिए वरिष्ठ वकील राजू रामचंद्रन को एमिकस-क्यूरी नियुक्त किया था.

अंधाधुंध गोलीबारी के दोषी पाए गए कसाब के पक्ष में और विरुद्ध कई घंटों की सुनवाई के बाद जस्टीस आफताब आलम और सीके प्रसाद की बेंच ने 25 अप्रैल को अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था.

सुप्रीम कोर्ट में फहीम अंसारी और सबाउद्दीन अहमद को रिहा किए जाने के खिलाफ महाराष्ट्र सरकार की अर्जी पर भी फैसला सुनाया जाना है.

पुख्ता सबूतों के अभाव में 26/11 हमले के कथित साजिशकर्ता फहीम अंसारी और सबाउद्दीन अहमद की रिहाई के आदेश दिए गए थे.

सुप्रीम कोर्ट में अपना पक्ष रखते हुए अजमल कसाब ने कहा था कि उसे स्वतंत्र और निस्पक्ष न्याय नहीं मिला और वो भारत के खिलाफ किसी साजिश का हिस्सा नहीं है.

कसाब ने अपने बचाव में कहा था कि अभियोजन पक्ष के पास उसके खिलाफ पुख्ता सबूत नहीं है.

सुप्रीम कोर्ट ने पिछले साल 10 अक्तूबर को कसाब के फांसी की सजा पर रोक लगाई थी.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.