बिहारियों के लिए परमिट सिस्टम हो: उद्धव

 मंगलवार, 4 सितंबर, 2012 को 11:19 IST तक के समाचार
उद्धव ठाकरे

उद्धव ठाकरे ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को भी आड़े हाथों लिया है

शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे के पुत्र उद्धव ठाकरे का कहना है कि मुंबई में रहने वाले बिहार के लोगों के लिए 'परमिट सिस्टम' लागू किया जाना चाहिए.

समाचार एजेंसियों के मुताबिक, उद्धव ठाकरे का कहना है कि मुंबई पुलिस को कार्रवाई करने के लिए अगर बिहार सरकार की अनुमति का ज़रूरत है तो हमें भी बिहारियों के लिए मुंबई में 'परमिट सिस्टम' लागू करना चाहिए.

उद्घव ठाकरे का ये बयान शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' में छपा है. इसमें उद्धव ठाकरे ने आज़ाद मैदान में हुई हिंसा के मामले में बिहार से एक व्यक्ति की गिरफ़्तारी में हस्तक्षेप करने के लिए बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की भर्त्सना की है.

नीतीश कुमार का विरोध

उद्धव ठाकरे का कहना है कि नीतीश कुमार ने उन लोगों का समर्थन किया है, जिन्होंने महाराष्ट्र में उपद्रव किया है. खबरों के मुताबिक, ठाकरे का ये भी कहना है कि पार्टी भविष्य में प्रधानमंत्री पद की दावेदारी के लिए नीतीश कुमार का समर्थन नहीं करेगी.

बिहारियों के विरोध के मुद्दे पर राज ठाकरे पहले ही बोल चुके हैं और अब उद्धव ठाकरे ने भी उनके सुर में सुर मिला दिया है. ऐसा छह साल बाद हुआ है जब बिहारियों के ख़िलाफ़ दोनों भाई एक सुर में बोले हैं.

इससे एक दिन पहले ही शिवसेना प्रमुख बाल ठाकरे ने प्रवासियों के खिलाफ अपने भतीजे राज ठाकरे के रुख़ का समर्थन किया था.

'हस्तक्षेप का अधिकार नहीं'

राज ठाकरे

महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के प्रमुख राज ठाकरे ने बिहारियों को घुसपैठिए करार देने की धमकी दी है

उन्होंने कहा था कि बिहार के मुख्य सचिव को मुंबई में हुई हिंसा के सिलसिले में बिहार से हुई गिरफ्तारी के मामले में हस्तक्षेप करने का कोई अधिकार नहीं है.

'सामना' के संपादकीय में कहा गया है कि इस मामले में बिहार के गृह सचिव की ओर से महाराष्ट्र सरकार को लिखा गया पत्र राज्य के 'क़ानून-व्यवस्था के मामलों में हस्तक्षेप' है.

'सामना' के संपादकीय में कहा गया है कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कु्मार को गिरफ्तारी की कार्रवाई के लिए मुंबई पुलिस को बधाई देनी चाहिए थी.

'भगवान भी नहीं बचा सकते'

"एक आतंकवादी को बिहार से गिरफ्तार करने की राह में यदि राजनीतिक सीमा बाधा बनती हैं तो इस देश को स्वयं भगवान भी नहीं बचा सकते हैं"

उद्धव ठाकरे

हिंसा के मामले में गिरफ्तार किए गए व्यक्ति को घुसपैठिया बताते हुए 'सामना' के संपादकीय में कहा गया है, ''एक आतंकवादी को बिहार से गिरफ्तार करने की राह में अगर राजनीतिक सीमा बाधा बनती हैं तो इस देश को स्वयं भगवान भी नहीं बचा सकते हैं.''

सेना प्रमुख का ये बयान तब आया है कि जब महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना के नेता राज ठाकरे बिहारियों के खिलाफ अपनी टिप्पणियों के लिए पहले ही आलोचना का सामना कर रहे हैं.

इस बयान से एक दिन पहले ही राज ठाकरे ने अपना रुख दोहराते हुए हिंदी न्यूज चैनलों को चेतावनी दी थी कि वे उनके विचारों को तोड़-मरोड़कर पेश नहीं करें.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.