बिहार: हावड़ा-दिल्ली एक्सप्रेस में डकैती

 शनिवार, 15 सितंबर, 2012 को 13:19 IST तक के समाचार
रेल (फाइल चित्र)

इस मार्ग पर पहले भी डकैती की कई घटनाएं हो चुकी हैं. लेकिन इस तरह का मामला कई सालों बाद सामने आया है.

बिहार के गया स्टेशन के पास हावड़ा-दिल्ली एक्सप्रेस में डकैती की वारदात हुई है. लुटेरों ने मुगलसराय रेल डिविज़न के अंतर्गत पुसौली स्टेशन और कुदरा स्टेशन के बीच घटना को अंजाम दिया. घटना के वक्त 12321 हावडा-दिल्ली एक्सप्रेस, हावड़ा से दिल्ली के लिए आ रही थी.

लुटेरों ने स्लीपर क्लास के डब्बे एस6 से एस 11 तक को लूट लिया. दर्जन भर लुटेरे छह डब्बों में घुस गए और लूटपाट की. इस घटना में आठ लोग घायल हो गए हैं जिनमें 6 पुरुष और 2 महिलाएं शामिल हैं.

इस लुटपाट में लगभग 25 लोगों के साथ लाखों रुपए की लूटपाट हुई जिसमें गहन, रुपए, मोबाइल शामिल हैं.

इस घटना में एक यात्री एन रहमान गंभीर रुप से घायल हो गए. लुटेरों ने उनके सिर और पैर पर चाकू मार दिया, जिसके बाद उन्हें मुगल सराय रेलव अस्पताल में भर्ती किया है.

लुटेरे गया स्टेशन से चढ़े और पुसौली स्टेशन और कुदरा स्टेशन के बीच लूटपाट की. ये इलाका मुगलसराय रेल डिविज़न के अंतर्गत आता है.

पूर्व मध्य रेलवे के मुख्य जनसंपर्क अधिकारी अमिताभ प्रभाकर ने बीबीसी को बताया कि ये घटना रात के चार बजे हुई जब रेल गया स्टेशन से आगे बढ़ी और इस सूचना की जानकारी रेल के टीटी ने ही अधिकारियों तक पहुंचाई.

लूट की वारदात को अंजाम देने के बाद लुटेरों ने मुगलसराय रेलवे स्टेशन से पहले चेन खींचकर रेल रोक दी और फरार हो गए.

मुगलसराय स्टेशन पहुंचने के बाद यात्रियों ने हंगामा किया और आरोप लगाया कि वारदात के दौरान रेलवे पुलिस का कोई भी सुरक्षाकर्मी नहीं दिखाई दिया.
मुगलसराय में दो घंटे रुकने के बाद रेल दिल्ली के लिए रवाना हुई.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.