बाढ़ से लाखों प्रभावित, 700 गांव डूबे

 सोमवार, 24 सितंबर, 2012 को 11:49 IST तक के समाचार

असम में बाढ़ की स्थिति गंभीर है. राज्य के 15 ज़िलों में 700 से अधिक गांव पानी में डूबे हुए हैं और आठ लाख से ज्यादा लोग प्रभावित हुए हैं.

अधिकारियों के हवाले से समाचार एजेंसी पीटीआई ने कहा है कि पिछले एक हफ्ते में बाढ़ की वजह से असम में पांच लोगों की मौत हो गई है.

सिक्किम के सुदूर इलाकों में भी भारी बारिश और भूस्खलन के कारण 27 लोग मारे गए हैं.

असम के ऊपरी हिस्सों और अरुणाचल प्रदेश में हो रही लगातार बारिश की वजह से ज़्यादातर नदियों में जलस्तर बढ़ रहा है और स्थिति की गंभीरता को देखते हुए सरकार ने अलर्ट भी घोषित कर दिया है.

मृतकों में इंडो-तिब्बत बॉर्डर पुलिस (आईटीबीपी) और बॉर्डर रोड ऑर्गेनाइजेश (बीआरओ) के जवान भी शामिल हैं.

असम बाढ़

कांजीरंगा अभ्यारण्य में भी पानी घुस गया है.

अधिकारियों का कहना है कि कामरूप, तिनसुकिया, धेमाजी, लखीमपुर, सोनितपुर और डिब्रूगढ़ में हालात ज्यादा गंभीर है.

राहत कार्य

असम में ब्रहमपुत्र नदी में पानी खतरे के निशान से ऊपर बह रही है.

डिब्रू-सैखोवा अभ्यारण्य, काज़ीरंगा राष्ट्रीय पार्क और पोबितोरा वन्य जीव अभयारण्यों के कुछ हिस्सों में बाढ़ का पानी घुस गया है.

अधिकारियों ने इन इलाकों में राहत कार्य बढ़ा दिया है.

तिनसुकिया ज़िले के सादिया परगना में भारतीय वायु सेना के चार हेलिकॉप्टरों को जरुरी खाद्य सामग्री और फंसे हुए लोगों को राहत सामग्री पहुंचाने के काम पर लगा दिया गया है.

इससे जुड़ी और सामग्रियाँ

इसी विषय पर और पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.