यूपी: विवादित मंत्री का इस्तीफा

  • 12 अक्तूबर 2012
यूपी विधान सभा
Image caption यूपी में समाजवादी पार्टी की सरकार बनने के बाद कई मंत्री विवादों के घेरे में आए हैं

गोंडा के चीफ मेडिकल ऑफिसर के कथित अपहरण और धमकाने के कारण सुर्ख़ियों में आये राजस्व राज्य मंत्री विनोद सिंह उर्फ पंडित सिंह ने कहा है कि उन्होंने नैतिकता के आधार पर त्यागपत्र दे दिया है.

हालांकि दूसरी ओर मुख्यमंत्री के करीबी सूत्रों का कहना है कि उनसे इस्तीफा माँगा गया था.

इस मामले से अखिलेश यादव सरकार की काफी किरकिरी हो रही थी. सत्तारूढ़ समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव ने सुबह-सुबह एक कार्यक्रम में कुछ मंत्रियों के आचरण पर दुःख प्रकट करते हुए उनसे अपने आचरण में शिष्टाचार, संयम और धीरज रखने की अपील की थी.

राजस्व मंत्री विनोद सिंह ने लखनऊ में पत्रकारों से बातचीत में कहा कि, “अगर मेरे नाते कहीं सरकार की छवि धूमिल हो रही है तो मै नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे रहा हूँ”.

साथ ही राज्यमंत्री ने आरोप लगाया है कि कुछ अधिकारियों ने उनके राजनीतिक विरोधियों के साथ मिलकर उनके खिलाफ साजिश की है.

घेराव

मंत्री के त्यागपत्र से नाराज उनके समर्थक गोंडा में सीएमओ कार्यालय का घेराव कर रहे हैं.

स्थानीय अखबारों में दो दिनों से ख़बरें छप रही थीं कि गोंडा जिले में स्वास्थ्य विभाग में डाक्टरों की भर्ती हो रही थी लेकिन मंत्री जी सूची में अपने लोगों के नाम न देखकर नाराज हो गए.

वह आधी रात सीएमओ को घर से उठाकर दफ्तर ले गए और फिर एक बाबू के घर.

सीएमओ इससे डर गए. उन्होंने मामले की सूचना जिला मजिस्ट्रेट को दी और डरकर लखनऊ चले आए. उधर जिला अधिकारी भी अवकाश लेकर चले आए. इसके बाद मामले की जानकारी लखनऊ में आला अधिकारियों को दी गई.

खबरें हैं कि मुख्यमंत्री ने मुंबई से लौटकर गुरुवार को सीएमओ को बुलाया और पूरी बात सुनी. इस मामले में स्वास्थ्य मंत्री अहमद हसन से भी रिपोर्ट ली गई.

इसके बाद मुख्यमंत्री ने पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव से परामर्श करके राज्यमंत्री को त्यागपत्र देने का निर्देश दिया.

लेकिन समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता मोहन सिंह ने कहा है कि त्यागपत्र पर्याप्त नहीं है, दोषी मंत्री के खिलाफ और भी कार्यवाही होनी चाहिए.

समझा जाता है कि समाजवादी पार्टी का शीर्ष नेतृत्व दल के पदाधिकारियों की दबंगई की घटनाओं से चिंतित है और एक कड़ा संदेश देने के लिए राज्यमंत्री को बर्खास्त किया गया है.

संबंधित समाचार