थरूर 'लव मंत्रालय' के लिए उपयुक्त: भाजपा

 बुधवार, 31 अक्तूबर, 2012 को 18:11 IST तक के समाचार
शशि थरूर, सुनंदा पुष्कर

जारी है थरूर पर भाजपा नेताओं के हमले

मानव संसाधन राज्य मंत्री शशि थरूर और उनकी पत्नी सुनंदा पुष्कर के बारे में नरेंद्र मोदी के विवादास्पद बयान के बाद भी भारतीय जनता पार्टी के हमले जारी हैं.

मोदी के बयान पर स्पष्टीकरण देने के बजाए ना केवल पूरी पार्टी नरेंद्र मोदी के पक्ष में खड़ी दिख रही है बल्कि ऐसा लग रहा है कि भाजपा नेताओं में इस बात की होड़ लगी है कि कौन कितना भद्दा मज़ाक कर सकता है.

मोदी के बाद ताज़ा हमला किया है भाजपा के उपाध्यक्ष और राष्ट्रीय प्रवक्ता मुख़्तार अब्बास नक़वी ने.

नक़वी ने बुधवार को दिए अपने बयान में शशि थरूर को 'लव गुरू' की उपाधि दे डाली और कहा कि अगर देश में लव मंत्रालय बनता है तो उस मंत्रालय का पदभार शशि थरूर को दिया जाना चाहिए.

"अगर देश में लव मंत्रालय बनता है तो उस मंत्रालय का पदभार शशि थरूर को दिया जाना चाहिए."

मुख़्तार अब्बास नक़वी, भाजपा प्रवक्ता

केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) मनीष तिवारी ने नक़वी के बयान पर अपनी प्रतिक्रिया देने से इनकार करते हुए केवल इतना कहा कि ''हमें सार्वजनिक बातचीत के माहौल को इस हद तक नहीं ख़राब करना चाहिए.''

लेकिन नरेंद्र मोदी के बयान पर भाजपा के लोग जहां उनके साथ खड़े दिख रहें हैं वहीं उनकी सहयोगी जनता दल-यू ने मोदी के बयान की आलोचना की है. जनता दल-यू के नेता और राज्य सभा सांसद शिवानंद तिवारी ने कहा कि मोदी ने जो कहा वह महिलाओं का अपमान करने वाला है.

शिवानंद के अनुसार औरत कोई वस्तु नहीं है, जिसकी क़ीमत लगाई जाए.

'अनमोल हैं मेरी पत्नी'

मोदी के बयान का जवाब देते हुए मंगलवार को शशि थरूर ने ट्विटर पर लिखा था, ''मेरी पत्नी आपके काल्पनिक आंकड़े से कहीं ज़्यादा क़ीमती है, वह अनमोल है, लेकिन यह समझने के लिए आपको किसी को प्यार करना पड़ेगा.''

मोदी के बयान पर महिला आयोग की अध्यक्ष ममता शर्मा और केंद्रीय गृह राज्य मंत्री आरपीएन सिंह के अलावा कई लोगों ने फ़ेसबुक और ट्विटर पर मोदी के बयान को महिला विरोधी क़रार देते हुए उसकी कड़ी निंदा की थी.

"हमें सार्वजनिक बातचीत के माहौल को इस हद तक नहीं ख़राब करना चाहिए."

मनीष तिवारी, केंद्रीय सूचना और प्रसारण मंत्री

दरअसल ये सारा विवाद शुरू हुआ जब सोमवार को हिमाचल प्रदेश में एक चुनावी रैली के दौरान गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने शशि थरूर की केंद्रीय मंत्रिमंडल में लगभग दो साल के बाद वापसी पर चुटकी लेते हुए कहा था कि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर एक समय में '50 करोड़ रूपए की गर्लफ़्रेंड थीं'.

मोदी ने बिना थरूर का नाम लेते हए कहा था, ''कांग्रेस के एक नेता थे जो मंत्री थे. उन पर क्रिकेट से संपत्ति बनाने का आरोप था. उन्होंने संसद में कहा था कि उस महिला के नाम पर जो 50 करोड़ रुपए हैं उससे वह नहीं जुड़े हैं.’ वाह क्या गर्लफ्रेंड हैं? आपने कभी देखा है 50 करोड़ की गर्लफ्रेंड को?''

भाजपा नेता का इशारा थरूर और उनसे जुड़े 2010 के आईपीएल विवाद को लेकर था जिसमें पुष्कर का नाम आने के बाद थरूर को मंत्रिमंडल से इस्तीफ़ा देना पड़ा था.

रविवार को हुए मंत्रिमंडल विस्तार में दोबारा मंत्री बनने के बाद पत्रकारों ने थरूर से जब उस विवाद के बारे में पूछा था तो थरूर ने कहा था कि सारा विवाद मीडया के ज़रिए खड़ा किया गया था और वो उसे कई साल पीछे छोड़ आए हैं.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.