मंहगा पड़ा फेसबुक पर सवाल

फेसबुक
Image caption सरकारें फेसबुक पर की जा रही टिप्पणियों पर गहरी नज़र रख रही हैं.

मुंबई में शिव सेना सुप्रीमो बाल ठाकरे की मौत के बाद फेसबुक पर टिप्पणी एक लड़की को मंहगी पड़ी है.

इस लड़की के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज़ किया है और उसे पूछताछ के लिए पुलिस थाने ले जाया गया है. बाद में पुलिस को गिरफ्तार कर के ज़मानत दे दी गई है.

जिन लड़कियों को गिरफ्तार किया गया था उनमें से एक लड़की ने टिप्पणी की थी और दूसरी लड़की ने इस टिप्पणी को पसंद किया था.

बाल ठाकरे की मौत के बाद मुंबई शनिवार और रविवार को लगभग पूरी तरह बंद रहा था और सोशल मीडिया पर इस बारे में तरह तरह की टिप्पणियां लिखी जा रही थीं.

इस लड़की ने अपने फेसबुक पर लिखा कि ठाकरे जैसे लोग हर दिन पैदा होते और मरते हैं और इस कारण मुंबई का बंद होना कहां तक उचित है.

पुलिस अधिकारी श्रीकांत पिंगले ने जानकारी देते हुए कहा है कि लड़की को गिरफ्तार किया गया है और बाद में पूछताछ कर के ज़मानत पर छोड़ दिया गया है.

इस टिप्पणी को लाइक करने वाली एक अन्य लड़की को भी गिरफ्तार करने के बाद ज़मानत दे दी गई.

यह मामला मुंबई से सटे ठाणे ज़िले के पालघर का है. इस लड़की के खिलाफ़ धारा295ए के तहत मामला दर्ज़ किया गया है. यह धारा गलत मंशा से धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने वालों के खिलाफ़ लगाई जाती है.

इतना ही नहीं पुलिस ने इस बात की पुष्टि भी की है कि इस लड़की के चाचा की क्लिनिक को रविवार की रात नुकसान भी पहुंचाया गया है और इन लोगों के खिलाफ भी कार्रवाई की गई है.

हालांकि पुलिस ने ये नहीं बताया कि क्लिनिक पर हमला करने वाले लोग किस राजनीतिक दल के थे.

संबंधित समाचार