सिर्फ़ कुछ 'एसोसिएट' निलंबित: भारती-वालमार्ट

  • 23 नवंबर 2012
Image caption दुनिया की बड़ी रिटेल कंपनी है वाल मार्ट

भारती-वॉलमार्ट ने रिश्वत के आरोपों की वजह से अपनी भारतीय सब्सिडरी में सीएफ़ओ को हटाने की ख़बर पर सीधा बयान ना देते हुए कहा कि उन्होंने सिर्फ़ कुछ एसोसिएट अधिकारियों को निलंबित किया है.

वॉलमार्ट भारत में सुनील मित्तल की कंपनी भारती के साथ मिलकर भारती-वॉलमार्ट नाम की एक ज्वाइंट वेंचर कंपनी चलाता है.

शुक्रवार को भारतीय समाचार पत्र 'इकॉनॉमिक टाइम्स' में ये ख़बर छपी थी कि अमरीका के 'रिश्वत रोधी कानून' के उल्लंघन के संदेह में भारती-वॉलमार्ट के मुख्य वित्तीय अधिकारी की छुट्टी कर दी गई है.

ख़बर में ‘लीगल टीम’ को भी निलंबित करने की बात कही गई थी, लेकिन वॉलमार्ट के प्रवक्ता ने बीबीसी को बताया कि उन्होंने सिर्फ़ कुछ 'एसोसिएट' को निलंबित किया है.

बीबीसी से बातचीत

भारती-वॉलमार्ट समूह के प्रवक्ता ने बीबीसी को बताया, “इस बारे में अधिक जानकारी नहीं दी जा सकती है, क्योंकि अभी जांच चल रही है, लेकिन हमने और भारती समूह ने कुछ 'एसोसिएट' को निलंबित किया है.”

वॉलमार्ट ने बीबीसी के सवालों के जवाब में भेजी ईमेल में कहा है कि वो इस मामले पर जांच पूरी होने से पहले और अधिक रोशनी नहीं डाल सकते.

वॉलमार्ट ने कहा, “हम भारतीय बाज़ार को लेकर वचनबद्ध हैं, हम इस बात को लेकर काफी उत्साहित हैं कि विश्व के सबसे आकर्षक बाज़ार में अपने व्यापार को बढ़ाने का मौका मिला है.”

संबंधित समाचार