नरहरि अमीन ने बदली आस्था, भाजपा में शामिल

  • 6 दिसंबर 2012
बीजेपी
Image caption नरहरि अमीन की गुजरात में अच्छई पकड़ बताई जाती है

गुजरात कांग्रेस के पूर्व दिग्गज नेता और राज्य के उप मुख्यमंत्री रहे नरहरि अमीन आखिरकार अपने समर्थकों के साथ गुरुवार को भाजपा में शामिल हो गए.

कांग्रेस के विधानसभा का टिकट देने से इन्कार के बाद उन्होंने अपने छह समर्थकों के साथ मंगलवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया था.

नरहरि अमीन राज्य में ताकतवर पटेल समुदाय से ताल्लुक रखते हैं.

नरहरि अमीन गुरुवार को सुबह भाजपा कार्यालय पहुंचे और वहां मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी के सामने पार्टी की सदस्यता ग्रहण की.

इस मौके पर मोदी ने कहा कि अमीन के भाजपा में आने से पार्टी को फायदा मिलेगा.

नरेंद्र मोदी ने कहा, “नरहरि अमीन हमेशा मुस्कराते हैं. हम चाहते हैं कि उनकी ये मुस्कान बनी रहे क्योंकि उनकी मुस्कान गुजरात के लोगों की मुस्कान होगी.”

गुजरात पर पकड़

दरअसल, लगातार दो विधानसभा चुनाव हार चुके अमीन इस बार भी गांधीनगर दक्षिण सीट से कांग्रेस के टिकट पर चुनाव लड़ना चाहते थे, लेकिन पार्टी ने उन्हें टिकट देने से इन्कार दिया.

लंबे समय तक कांग्रेस में रहे नरहरि अमीन ने इसके बाद पार्टी छोड़ने की धमकी दी थी. हालांकि कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेताओं ने उन्होंने मनाने की कोशिश की, लेकिन आखिरकार बात बन नहीं पाई.

नरहरि अमीन की गुजरात में अच्छी पकड़ बताई जाती है और वे गुजरात क्रिकेट एसोसिएशन के भी अध्यक्ष रह चुके हैं.

हाला ही में भाजपा के वरिष्ठ नेता और पूर्व मुख्यमंत्री केशुभाई पटेल ने पार्टी छोड़कर अपनी नई पार्टी बना ली थी.

बताया जाता है कि नरहरि अमीन की पार्टी में शामिल करके भाजपा केशुभाई के जाने से होने वाले नुकसान की भरपाई कर सकती है.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार