राष्ट्र गान पर भारत पाक में होड़

जन गण मन
Image caption कानपुर में एक और विश्व रिकार्ड बनाने की कोशिश हुई है

भारत और पाकिस्तान के बीच कुछ दिनों से राष्ट्र गान को लेकर एक अलग ही तरह की जंग छिड़ी हुई है.

दोनों देशों के लोग बड़ी संख्या में अपने-अपने देशों का राष्ट्र गान गाकर रिकार्ड तोड़ने में लगे हुए हैं.

कानपुर में पिछले दिनों एक लाख लोगों ने राष्ट्र गान गाकर पाकिस्तान का रिकार्ड तोड़ दिया है. इस दौरान गिनीज वर्ल्ड रिकार्ड्स के प्रतिनिधि भी वहां मौजूद थे.

गिनीज़ बुक के एक प्रतिनिधि ने पुष्टि की कि वहां एक लाख से अधिक लोग मौजूद थे.

इससे पहले अक्तूबर महीने में पाकिस्तान ने 44,200 लोगों को जुटाकर लाहौर में पाकिस्तान का राष्ट्र गान गाया था और वो विश्व रिकार्ड था.

बीबीसी को गिनीज बुक के प्रतिनिथि राजेश मेहरा ने बताया कि गिनीज़ रिकार्ड्स की 14 सदस्यीय टीम वीडियो कैमरा के साथ आई थी और उन्होंने पूरे आयोजन की रिकार्डिंग की है.

उनका कहना था, ‘‘ इसमें करीब एक लाख लोग थे. हम गिनीज़ वर्ल्ड रिकार्ड्स को एक हफ्ते में अपनी रिपोर्ट देंगे और वो फिर औपचारिक रुप से इसकी घोषणा करेंगे.’’

इस आयोजन के आयोजकों में से एक सुमित मखीजा का कहना था कि एक लाख 25 हज़ार से अधिक लोग राष्ट्र गान गाने आए थे और हर व्यक्ति ने कलाई पर बैंड बांध रखा था.

एक स्थानीय नागरिक अधिकार समूह ने रोड शो और जन बैठकों के ज़रिए स्कूल और कालेजों में इस आयोजन के लिए रुचि जगाई थी.

मखीजा का कहना था, ‘‘ हमने एक लाख लोगों का टारगेट रखा था लेकिन वहां सवा लाख लोग जमा हो गए थे. राष्ट्र गान के बाद हमें कार्यक्रम जल्दी बंद कर देना पड़ा ताकि भगदड़ न मचे.’’

कार्यक्रम में शामिल एक व्यक्ति राजेश चंद्रा का कहना था, ‘‘ यह मेरे लिए गर्व का क्षण था कि मैंने इसमें हिस्सा लिया, पाकिस्तान को हराया और विश्व रिकार्ड बनाया.’’

उल्लेखनीय है कि पहले भी यह रिकार्ड भारत के नाम था जिसमें 15,243 लोगों ने राष्ट्र गान गाया था जिसे अक्तूबर में पाकिस्तान ने तोड़ दिया था.

संबंधित समाचार