बलात्कार पीड़ित लड़की के बाप की आपबीती

विरोध प्रदर्शन
Image caption बलात्कार की हालिया घटनाओं ने लोगों को हिलाकर रख दिया है

दिल्ली से सटे नोएडा में एक लड़की के बलात्कार और हत्या के मामले में पुलिस ने कुछ दिनों के बाद कार्रवाई की है. अब उनके पिता ने उस दिन की घटनाओं के बारे में बीबीसी से बात की जब उनकी लड़की लापता हुई थी.

मेरी लड़की शुक्रवार की सुबह काम के लिए घर से सही-सलामत निकली थी. रात को उसे घर लौटने में देर हो गई थी.

रात दस बजे तक हमने उसकी राह देखी कि वह घर आती होगी. लेकिन वह घर नहीं पहुंची, जिसके बाद हमने उसकी तलाश शुरू की.

घर के लोग ही उसे तलाशने निकले और उसके साथियों से पूछताछ की. उन्होंने कुछ जानकारी दी लेकिन वह कहीं नहीं मिली.

सुबह पांच-छह बजे हम दोबारा उसकी तलाश में निकले. थक-हारकर हम नोएडा सेक्टर 63 के पुलिस थाने में शिकायत लिखाने पहुंचे.

हमने पुलिस से मदद करने की गुहार लगाई, लेकिन पुलिस ने सहयोग नहीं किया और कहा कि किसी दोस्त के साथ चली गई होगी.

बाद में हमें पता चला कि लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार किया गया और उसकी हत्या कर दी गई. लड़की की अधनंगी लाश मिली.

पुलिस ने कार्रवाई तब की जो स्थानीय नेताओं ने दबाव डाला. पुलिस की भाषा अच्छी नहीं थी.

पुलिस ने इस मामले में कुछ लोगों को हिरासत में लिया है और उन पुलिस अधिकारियों को निलंबित भी कर दिया है जिन्होंने एफआईआर दर्ज़ नहीं की थी.

(बलात्कार का शिकार हुई लड़की के पिता से बीबीसी की बातचीत पर आधारित)

संबंधित समाचार