सही समय पर जवाब देंगे: भारतीय सेना प्रमुख

 सोमवार, 14 जनवरी, 2013 को 12:52 IST तक के समाचार
भारतीय सेना प्रमुख बिक्रम सिंह

भारतीय सेना प्रमुख के कड़े तेवर

भारतीय सेना प्रमुख जनरल बिक्रम सिंह ने नियंत्रण रेखा या एलओसी पर हाल में हुई घटनाओं पर कड़ी प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि पाकिस्तान को जवाब देने के लिए समय और जगह का चयन भारतीय सेना करेगी.

सोमवार को दिल्ली में पत्रकारों से बातचीत करते हुए जनरल सिंह ने कहा कि नियंत्रण रेखा पर अब अगर पाकिस्तान की ओर से फ़ायरिंग हुई तो उनकी सेना इसका करारा जवाब देगी.

उन्होंने साफ़ कहा, "भारत की ओर से किसी तरह का कोई हमला नहीं किया गया था और पाकिस्तान की ओर से बार-बार ये अफ़वाह फैलाई जा रही है कि छह जनवरी को भारतीय सेना ने फ़ायरिंग की थी जिसके जवाब में पाकिस्तानी सेना ने आठ जनवरी को गोलीबारी की थी."

जनरल सिंह ने इन आरोपों को ख़ारिज करते हुए कहा कि आठ जनवरी को पाकिस्तान की ओर से किया गया हमला पूर्वनियोजित था.

आठ जनवरी को पाकिस्तान की तरफ़ से हुई गोलीबारी में दो भारतीय सैनिक मारे गए थे और एक भारतीय सैनिक हेमराज के शव के साथ कथित तौर पर बदसलूकी भी की गई थी.

"पाकिस्तान की तरफ़ से किया गया हमला पूर्वनियोजित था. किसी सैनिक के शव के साथ बदसलूकी करना किसी भी हालत में स्वीकार्य नहीं है. ऐसा करना समझ से परे है और युद्ध के तमाम मूल्यों के ख़िलाफ़ है."

बिक्रम सिंह, भारतीय सेना प्रमुख

सेना प्रमुख ने कहा कि किसी सैनिक के शव के साथ बदसलूकी करना किसी भी हालत में स्वीकार्य नहीं है.

मूल्यों के ख़िलाफ़

इस घटना की कड़ी निंदा करते हुए जनरल सिंह ने कहा कि ऐसा करना समझ से परे है और युद्ध के तमाम मूल्यों के ख़िलाफ़ है.

पाकिस्तानी गोलीबारी में मारे गए लांस नायक हेमराज के सिर को वापस लाए जाने के बारे में उन्होंने कहा कि भारतीय विदेश मंत्रालय इस बारे में कुछ कर सकता है. उन्होंने कहा कि सेना ने भारत सरकार को सभी तथ्यों की जानकारी दे दी है और डीजीएमओ के स्तर भी बातचीत हुई है.

नियंत्रण रेखा पर भारतीय कमांडरों के आक्रामक रवैया अपनाने के बारे में प्रतिक्रिया देते हुए जनरल सिंह ने कहा कि वे चाहते हैं सीमा पर तैनात हर भारतीय सैनिक आक्रामक हो.

लेकिन साथ ही उन्होंने ये भी कहा कि पाकिस्तान की ओर से उकसाने वाली किसी भी कार्रवाई का भारतीय सेना पेशेवर तरीक़े से जवाब देती है.

जनरल सिंह ने कहा कि सोमवार दोपहर को भारत और पाकिस्तान के बीच फ़्लैगमीट के दौरान भी इस बारे में भारतीय सेना अपना कड़ा विरोध दर्ज कराएगी.

नियंत्रण रेखा पर हाल में हुई गोलीबारी से पैदा हुए संकट को कम करने की दिशा में सोमवार दोपहर पुंछ सेक्टर के चकन दा बाग में दोनों सेनाओं के बीच ब्रिगेडियर स्तर की बातचीत होगी.

इसे भी पढ़ें

टॉपिक

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.