लखनऊ में शिया-सुन्नी झड़पों में दो लोगों की मौत

  • 17 जनवरी 2013
लखनऊ पुलिस (फ़ाइल)
Image caption राज्य प्रशासन ने कहा है कि घटना शरारती तत्वों की हरकत का नतीजा है.

उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में शिया-सुन्नी सुमदायों के बीच हुई हिसंक झड़पों में दो लोगों की मौत हो गई है.

एक अधिकारी के मुताबिक़ पूराने शहर के वज़ीरगंज में हो रही एक मजलिस में कहीं से पत्थरबाज़ी होने लगी जिसकी वजह से माहौल तनावपुर्ण हो गया.

घटना के बाद फ़ायरिंग होने की बात भी कही जा रही है.

कुछ लोगों का कहना है कि जब मजलिस चल रही थी तो कुछ लोग उसमें घुसकर फायरिंग करने लगे. उस समय बिजली भी ग़ायब थी.

इस बात से पूरी तरह इंकार नहीं किया जा रहा है कि बिजली जानबुझकर गलु की गई हो.

पोस्टर

पुलिस और प्रशासन के लोग घटनास्थल पर पहुंच गए हैं और मामले को सुलझाने की कोशिशें जारी हैं.

बीबीसी संवाददाता रामदत्त त्रिपाठी के मुताबिक़ पूराने लखनऊ में पिछले लगभग हफ़्ते भर से तनाव जारी था.

पिछले हफ्ते लोगों ने दीवारों पर कुछ पोस्टर लगे देखे थे जिसमें सुन्नी समुदाय के धार्मिक गुरूओं के ख़िलाफ़ अभद्र भाषा का इस्तेमाल किया गया था.

राज्य के प्रमुख गृह सचिव आरएम श्रीवास्तव ने कहा है कि जो लोग भी घटना में शामिल पाए जाएंगे उनके ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई की जाएगी.

लखनऊ में शिया सुन्नी के बीच तनाव का इतिहास बहुत पुराना है और दोनों के बीच दंगे भी होते रहे हैं.

इसी वजह से शहर में मुहर्रम के मौक़ पर निकलने वाले ताज़िए पर लंबे समय तक प्रतिबंध लगा दिया गया था लेकिन वो हाल में फिर से शुरू हो गया है.