कच्चे सोने पर बढ़ा आयात शुल्क

 बुधवार, 23 जनवरी, 2013 को 00:53 IST तक के समाचार
gold

सोना की कीमतों में उछाल जारी.

भारत सरकार ने सोने और प्लेटिनम पर सीमा शुल्क बढ़ाने के एक दिन बाद कच्चे सोने यानि डोर और पीली धातु के अयस्कों पर आयात शुल्क को दो प्रतिशत से बढ़ाकर पांच प्रतिशत कर दिया है.

डोर सोना और चांदी का मिश्रण होता है और इसका इस्तेमाल शुद्ध सोने को बनाने में किया जाता है. हर साल देश में करीब 100 टन डोर की छड़ों का आयात किया जाता है.

सरकार ने पिछले साल सोने पर आयात कर चार प्रतिशत बढ़ा दिया था जिससे डोर के आयात में काफी बढ़ोतरी हुई थी.

सरकार ने इससे पहले सोने और प्लेटिनम पर आयात शुल्क को चार से बढ़ाकर छह प्रतिशत कर दिया था. भारत विश्व में सोने का सबसे बड़ा आयातक है और प्रतिवर्ष 800 टन सोने का आयात करता है. सरकार सोने के बढ़ते आयात को हतोत्साहित करने के लिए ये कदम उठा रही है.

आयात में नहीं आएगी कमी

देश में अधिकांश डोर का आयात सरकारी कंपनी एमएमटीसी और निजी कंपनी पीएएमपी एवं राजेश एक्सपोर्ट्स करती हैं. लेकिन विशेषज्ञों का कहना है कि आयात शुल्क में बढ़ोतरी के बावजूद डोर के आयात में कोई कमी नहीं आएगी.

सरकार सोने के बढ़ते आयात से चिंतित है और उसने पिछले वर्ष के 58 अरब डॉलर की तुलना में 31 मार्च 2013 तक आयात को घटाकर 38 अरब डॉलर करने का लक्ष्य रखा है.

जारी है सोने में उछाल

इस बीच सोने के आयात शुल्क में बढ़ोतरी से सोने की कीमतों में तेजी जारी रही. मंगलवार को पीली धातु की कीमत 40 रुपए बढ़कर 31290 रुपए प्रति दस ग्राम हो गई.

इससे पहले सोमवार को सोने की कीमत में 315 रुपए प्रति दस ग्राम की बढ़ोतरी हुई थी.

इसे भी पढ़ें

BBC © 2014 बाहरी वेबसाइटों की विषय सामग्री के लिए बीबीसी ज़िम्मेदार नहीं है.

यदि आप अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करते हुए इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरूप कर लें तो आप इस पेज को ठीक तरह से देख सकेंगे. अपने मौजूदा ब्राउज़र की मदद से यदि आप इस पेज की सामग्री देख भी पा रहे हैं तो भी इस पेज को पूरा नहीं देख सकेंगे. कृपया अपने वेब ब्राउज़र को अपडेट करने या फिर संभव हो तो इसे स्टाइल शीट (सीएसएस) के अनुरुप बनाने पर विचार करें.