सलमान रुश्दी को कोलकाता आने से रोका गया

  • 30 जनवरी 2013
Image caption कोलकाता में अंतिम पलों में रद्द करना पड़ा सलमान रुश्दी को अपना कार्यक्रम.

जयपुर साहित्योत्सव के दौरान आशीष नंदी के एक बयान का मामला अभी थमा भी नहीं है कि एक दूसरा विवाद सामने आ गया है. इस बार निशाने पर हैं विवादों से घिरे लेखक सलमान रूश्दी. उन्हें कोलकाता में प्रवेश दिए जाने से रोक दिया गया है.

सलमान रुश्दी को मिडनाइट्स चिल्ड्रेन उपन्यास पर बनी फिल्म की टीम के साथ कोलकाता एक आयोजन में हिस्सा लेना था. उनके साथ फिल्म की निर्देशक दीपा मेहता और फिल्म के एक्टर राहुल बोस भी आयोजन में शामिल थे.

लेकिन बताया जा रहा है कि राज्य सरकार और स्थानीय पुलिस प्रशासन की आपत्ति के बाद सलमान रुश्दी का कोलकाता दौरा रद्द कर दिया गया.

रुश्दी इस फिल्म के प्रमोशन के सिलसिले में इन दिनों भारत में हैं. रुश्दी दिल्ली, बैंगलोर और मुंबई में प्रमोशन के कार्यक्रम में हिस्सा ले चुके थे. इस सिलसिले में उनका अंतिम कार्यक्रम कोलकाता में होना था. यह आयोजन कोलकाता साहित्य सम्मेलन द्वारा कोलकाता पुस्तक मेले में एक सेमीनार में होना था.

मंत्री ने डाला दबाव?

लेकिन पुलिस और सरकार के आपत्ति के बाद मेला के आयोजकों ने इस आयोजन का कराने से इनकार कर दिया.

मीडिया के अनुसार आयोजकों ने कहा है कि सलमान रुश्दी के कोलकाता आने से रोकने के लिए पश्चिम बंगाल सरकार के वरिष्ठ मंत्री ने दो-दो बार फोन किया.

हालांकि आयोजकों ने इस मंत्री का नाम बताने से इनकार किया है.

इसके चलते रुश्दी फिल्म के भारतीय वितरक पीवीआर समूह की ओर से किए गए प्रेस कांफ्रेंस में भी शामिल नहीं हो पाएंगे. पीवीआर की मीडिया टीम की स्थानीय पुलिस की ओर से कहा गया था कि अगर रुश्दी कोलकाता आते हैं तो उन्हें रोककर दूसरी फ्लाइट से वापस भेज दिया जाएगा.

रुश्दी के उपन्यास मिडनाइट्स चिल्ड्रेन पर बनी फिल्म एक फरवरी को रिलीज़ हो रही है.

रुश्दी के उपन्यास द सेटेनिक वर्सेज पर भारत सहित दुनिया भर में काफी विवाद रहा है. पिछले साल वे इन विवादों की वजह से ही जयपुर साहित्योत्सव में भाग नहीं ले पाए थे.

संबंधित समाचार