स्वाइन फ्लू से 90 से ज़्यादा लोगों की मौत

Image caption स्वाइन फ्लू एच1 एन1 वायरस से फैलता है

भारत में स्वाइन फ्लू के मामलों में इस साल तेजी से बढ़ोतरी हो रही है जिसमें अब तक नब्बे से ज्यादा लोग मारे जा चुके हैं.

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने अपनी ताज़ा रिपोर्ट में कहा है कि इस साल एक जनवरी से 27 जनवरी तक भारत में 456 स्वाइन फ्लू के मामले सामने आए और 91 लोगों की मौत हुई.

इसके अलावा समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक दिल्ली में तीन और मौतें हुई है जिससे इस साल मरने वालों की संख्या कम से कम 94 हो गई है.

स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय ने अपनी वेबसाइट पर जारी रिपोर्ट में बताया कि स्वाइन फ्लू से सबसे ज्यादा प्रभावित राज्य राजस्थान है और उसके बाद पंजाब और हरियाणा का नंबर है.

राजस्थान में इस साल स्वाइन फ्लू से 54 लोगों की मौत हो गई है जबकि हरियाणा में 13 और पंजाब में नौ मौतें हुई है.

एच1 एन1

स्वाइन फ्लू का सबसे बड़ा असर साल 2009 और 2010 में देखा गया था. वर्ष 2010 में 20,604 मामले सामने आए थे और 1763 लोगों की जान गई थी. वहीं पिछले साल भारत में स्वाइन फ्लू से 405 लोग जान से हाथ धो बैठे थे.

राजधानी दिल्ली में इस बुखार क बढ़ते प्रभाव को देखते हुए दिल्ली सरकार ने 22 अस्पतालों को इसके उपचार के लिए विशेष व्यवस्था बनाने का निर्देश दिया है.

स्वाइन फ्लू एच1 एन1 वायरस से फैलता है.

स्वाइन फ्लू के शुरूआती मामले वर्ष 2009 में सबसे पहले मैक्सिको में सामने आए थे.

जून 2009 में विश्व स्वास्थ्य संगठन ने स्वाइन फ़्लू को विश्वव्यापी महामारी घोषित कर दिया था.

संबंधित समाचार