कश्मीर में कर्फ्यू सातवें दिन भी जारी

  • 15 फरवरी 2013
कश्मीर
Image caption घाटी में कर्फ्यू सातवें दिन भी जारी है.

भारत प्रशासित कश्मीर में शुक्रवार को कर्फ्यू लगातार सातवें दिन भी जारी है. हालांकि ईदगाह के कब्रिस्तान में अफ़ज़ल की कब्र के लिए पृथकतावादियों की ओर से बुलाए गए विरोध प्रदर्शन प्रशासन के कड़े इंतजाम की वजह से नाकाम हो गए.

कर्फ्यू को सख्ती से लागू करने के कारण लोग घरों के बाहर नहीं निकल पाए.

बीबीसी संवाददाता रियाज़ मसरूर ने बताया कि जुमे की नमाज कश्मीर की जामा मस्जिद और खानकाह मौला जैसी बड़ी मस्जिदों में नहीं पढ़ी जा सकी. हालांकि घाटी की छोटी मस्जिदों में नमाज पढ़ी गई.

कर्फ्यू के सातवें दिन हिंसा की कोई सूचना नहीं है लेकिन पुलिस ने 200 कश्मीरी युवकों को गिरफ्तार कर लिया.

इंटरनेट और एसएमएस पर रोक

Image caption कश्मीर में प्रशासन ने कर्फ्यू को सख्ती से लागू किया है.

इससे पहले प्रशासन की तरफ से यह कहा गया था कि कुछ इलाकों से कर्फ्यू उठा लिया गया है पर हड़ताल की वजह से ज़्यादा लोग बाहर नहीं आ पा रहे थे.

वर्ष 2001 के संसद हमले के अभियुक्त अफ़ज़ल गुरू की दिल्ली के तिहाड़ जेल में फ़ांसी के बाद कश्मीर में तनाव भड़क गया था.

कश्मीर में सभी अलगाववादी नेताओं को या तो जेल में डाल दिया गया है या घर में ही नज़रबंद कर लिया गया है.

भारत के संसद पर हमला करने के दोषी अफज़ल गुरू की फाँसी के बाद से ही जम्मू-कश्मीर में तनाव की स्थिति बनी हुई है.

शनिवार को अफ़ज़ल को फाँसी दिए जाने के बाद से घाटी में कर्फ्यू लगा दिया गया था.

इसके अलावा राज्य के सभी ज़िलों में इंटरनेट और एसएमएस सेवा अब भी बंद है हालांकि लैंडलाइन टेलीफोन और मोबाइल सेवाएं बहाल हैं और टीवी के प्रसारण पर लगी रोक भी ख़त्म कर दी गई.

संबंधित समाचार