बलात्कार की शिकार स्विस पर्यटक का सामान मिला

बलात्कार की जांच जारी है
Image caption पुलिस मामले की छानबीन कर रही है

मध्य प्रदेश पुलिस का कहना है कि हमले और बलात्कार का शिकार बनी स्विस पर्यटक से लूटे गए सामान में से कुछ चीज़ें बरामद कर ली हैं.

वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों ने बीबीसी से बातचीत के दौरान इस बात की जानकारी दी है.

ये महिला अपने पति के साथ एक जंगल में शिविर लगा कर रह रही थी जब शुक्रवार की रात को उन पर हमला किया गया और उन्हें लूटा गया.

दतिया के सिविल लाइंस पुलिस थाने के अधिकारियों का कहना है कि ये मामला झाडिया गांव के पास का है.

मध्य प्रदेश पुलिस का कहना है कि घटना के बारे में कई लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है और इन्ही में से कुछ लोगों की निशानदेही पर लूट का कुछ सामान बरामद कर लिया गया है.

साफ नहीं स्थिति

थाने में तैनात पुलिसकर्मियों का कहना है कि पांच लोगों की निशानदेही पर ही कई जगहों पर छपे मारे गए और लूट का कुछ सामान बरामद किया गया है. पुलिस ने घटनास्थल से करीब के कई गांवों में सघन तलाशी का अभियान चलाया है.

हालांकि इस मामले में जारी छानबीन को लेकर स्थिति स्पष्ट नहीं है क्योंकि राज्य पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों की तरफ से कोई ब्यौरा नहीं दिया गया है.

पुलिस महानिरीक्षक सैयद मोहम्मद अफज़ल का कहना है कि अब तक की जांच से पता चला है कि चार लोगों ने स्विस महिला का बलात्कार किया.

उन्होंने बताया कि आठ से दस लोगों ने पहले स्विस दंपत्ति को पहले पीटा और फिर उन्हें लूटा. इसके बाद चार लोगों ने महिला से सामूहिक बलात्कार किया.

पुलिस पर दबाव

इससे पहले अभियुक्तों के अपना गुनाह कबूलने की खबरें आई लेकिन पुलिस की तरफ से इस बारे में कोई जानकारी नहीं दी गई है. अधिकारियों का कहना है कि इस बारे में कोई ब्यौरा जारी करने के मामले की जांच प्रभावित हो सकती है.

अधिकारियों के अनुसार इस मामले में कुछ लोगों को हिरासत में लिया गया है और अभी तक कोई गिरफ्तारी नहीं हुई है.

पिछले साल दिसंबर में दिल्ली सामूहिक बलात्कार मामले के बाद यौन हिंसा को लेकर बढ़ी जागरुकता के बीच स्थानीय अधिकारियों पर इस मामले को जल्द से जल्द सुलझाने का दबाव है.

ये स्विस जोड़ा मध्य प्रदेश के ओरछा से आगरा तक साइकिल से भ्रमण पर था. इसी दौरान रात में उन्होंने दतिया के झाड़िया गांव के पास कैम्प लगाया.

संबंधित समाचार