स्विस महिला बलात्कार मामले में छह गिरफ्तार

स्विस महिला से बलात्कार
Image caption पुलिस पर इस मामले को जल्द सुलझाने का दबाव है

मध्य प्रदेश पुलिस ने कहा है कि एक स्विस पर्यटक के साथ बलात्कार के मामले में छह लोगों को गिरफ्तार किया है.

पुलिस ने जंगल में कैंपिंग कर अपने पति के साथ छुट्टी मना रही इस 39 वर्षीय महिला का लूटा गया कुछ सामान भी बरामद किया है जिसमें मोबाइल फोन और लैपटॉप शामिल है.

बीबीसी संवाददाता सलमान रावी से बातचीत में पुलिस महानिरीक्षक एसएम अफजल ने कहा, “हमने छह अभियुक्तों को गिरफ्तार किया है जिन्होंने स्विस महिला से बलात्कार किया.”

गिरफ्तार लोगों की पहचान बाबा, बूथा, रामप्रो, ब्रजेश, विष्णु कंजर और नितिन कंजर के रूप में की गई है.

इनमें से पांच लोगों को रविवार दिन में गिरफ्तार किया गया जबकि नितिन को निवाड़ी में रविवार शाम को गिरफ्तार किया गया.

पीड़ित दिल्ली रवाना

पुलिस उप महानिरीक्षक डीके आर्या ने कहा कि सभी अभियुक्तों ने माना कि ये हमला शुक्रवार की रात को हुआ. उन्हें सोमवार को मजिस्ट्रैट के सामने पेश किया जाएगा.

अभियुक्तों ने पुलिस को बताया कि स्विस महिला का सात से आठ लोगों ने सामूहिक बलात्कार किया था. लेकिन चूंकि अंधेरा था इसलिए वो हमला करने वालों की संख्या सही सही नहीं बता सकते हैं.

छुट्टी मनाने तीन महीने के भारत दौरे पर आया ये स्विस जोड़ा मध्य प्रदेश के ओरछा से आगरा तक साइकिल से यात्रा पर था. इसी दौरान रात में उन्होंने दतिया के झाड़िया गांव के पास कैम्प लगाया.

पुलिस का कहना है कि पीड़ित महिला का ग्वालियर में इलाज किया गया जहां से बाद में उन्हें दिल्ली भेज दिया गया. पीड़ित महिला सदमे में बताई जाती है.

बलात्कार की समस्या

इससे पहले पुलिस गिरफ्तार लोगों से मिली जानकारी के आधार पर 20 लोगों को हिरासत में लिया.

पिछले साल दिसंबर में दिल्ली सामूहिक बलात्कार मामले के बाद यौन हिंसा को लेकर बढ़ी जागरुकता के बीच स्थानीय अधिकारियों पर इस मामले को जल्द से जल्द सुलझाने का दबाव है.

रॉयटर्स के अनुसार राष्ट्रीय अपराध रिकॉर्ड ब्यूरो के आंकड़े कहते हैं कि भारत में हर बीस मिनट में एक महिला से बलात्कार होता है. लेकिन पुलिस का कहना है कि आम तौर पर बलात्कार के दस मामलों में लगभग चार ही पुलिस तक पहुंच पाते हैं क्योंकि पीड़ित या उनका परिवार शर्मिंदगी के कारण ही ऐसे मामलों को छुपा लेता है.

संबंधित समाचार