संजय दत्त: दिल टूटा है, आंखों में आंसू हैं

संजय दत्त
Image caption संजय ने कहा है कि वह फैसले का सम्मान करेंगे.

मुंबई में 1993 में हुए श्रृंखलाबद्ध बम धमाकों से जुड़े एक मामले में सुप्रीम कोर्ट की तरफ से पांच साल की सजा सुनाए जाने के बाद फिल्म अभिनेता संजय दत्त ने अपनी चुप्पी तोड़ दी है.

सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर उन्होंने कहा,"मेंने उन्होंने हमेशा इंसाफ की इज्जत की है और करता रहूंगा भले ही मेरे आंखों में आंसू क्यों न हों."

एक भावनात्मक बयान में संजय ने कहा,"मेरा दिल टूटा है क्योंकि मेरे साथ मेरे तीन बच्चे और मेरी पत्नी भी सजा भुगतेंगे."

अपनी अधूरी फिल्मों को लेकर संजय ने वादा किया है कि वे सभी फिल्मों को पूरा करेंगे और किसी को भी निराश नहीं करेंगे.

फ़ैसला आने के बाद मुंबई में मौज़ूद संजय दत्त ने एक प्रेस विज्ञप्ति में कहा, ''अदालत के इस फ़ैसले को मैं पूरी विनम्रता से स्वीकार करता हूं.''

रो पड़ी प्रिया दत्त

वहीं उनकी बहन और कांग्रेस सासंद प्रिया दत्त फैसला आते ही रो पड़ीं और कहा कि उन्हें यह समझ में नहीं आ रहा है कि इस पर क्या कहें.

अदालत ने इस फ़ैसले की समीक्षा की अपील करने के लिए संजय दत्त को चार हफ़्ते का समय दिया है.

इस मामले में संजय दत्त पर एके 56 राइफल रखने का आरोप था.

इस बीच अभिनेता संजय दत्त के घर पर मुलाकातियों के आने का सिलसिला जारी है.

फिल्म उद्दोग की कई नामचीन हस्तियों ने संजय के पक्ष में सहानुभूति प्रकट की है.

उनके घर आने वालों में मुन्नाभाई के निर्देशक राज कुमार हिरानी, अपूर्व लाखिया, प्रभु देवा, मिलन लूथरिया, अनीस बज्मी, अमित मेहरा, राहुल अग्रवाल, बंटी वालिया सुजोय घोष और फिल्म अभिनेत्री विद्या बालन प्रमुख थीं.

जया प्रदा: फिल्म अभिनेत्री और सांसद

मुंबई में 1993 में हुए श्रृंखलाबद्ध धमाकों से जुड़े आरोप में सुप्रीम कोर्ट की ओर से संजय दत्त को सुनाई गई सज़ा का हम सबको सम्मान करना चाहिए.

सुनील दत्त ने जिस तरह देश की सेवा की है, उसे देखते हुए मुझे उम्मीद थी अदालत संजय दत्त के प्रति नरमी दिखाते हुए उन्हें माफ कर देगी.

Image caption मुंबई में 1993 में हुए धमाकों के दोष में संजय दत्त को पांच साल के कारावास की सजा सुनाई गई है

मैं संजय दत्त को बहुत दिन से जानती हूं और हमने कुछ फ़िल्में भी साथ-साथ की हैं. उनके परिवार से मेरा दोस्ताना संबंध रहा है, इसलिए मुझे लगता है कि इस संजय दत्त निर्दोष हैं.

संजय दत्त इस मामले में पहले ही 18 महीने की सज़ा काट चुके हैं, इसलिए मुझे उम्मीद थी कि अदालत ने उनकी बाकी की सजा को माफ़ कर देगी.

संजय दत्त ने अपने जीवन में बुहत संघर्ष किया है.

कपिल सिब्बल: केंद्रीय दूर संचार मंत्री

संजय दत्त को देश की सबसे बड़ी अदालत ने सज़ा सुनाई है. इसलिए हम सबको अदालत के फैसले का सम्मान करना चाहिए.

रघुवंश प्रसाद सिंह, राजद नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री

मुंबई में हुए श्रृंखलाबद्ध धमाकों के मामले के दोषियों को सुप्रीम कोर्ट ने जो सजा सुनाई है, हम सबको अदालत के फैसले का सम्मान करना चाहिए.

फरज़ाना शाह, मुंबई हमलों के कुछ दोषियों की वकील

हम इस बात से खुश हैं कि टाडा अदालत ने जिन 11 लोगों को मौत की सजा सुनाई थी, अदालत ने उनमें से याकूब मेनन को छोड़कर बाकी के दस लोगों की सज़ा को आजीवन करावास में बदल दिया है.

हमारे लिए यह बहुत खुशी की बात है. मुझे लगता है कि यह सब अल्लाह का फज़ल है. अल्लाह ने हमारी फरियाद सुन ली है.

संबंधित समाचार