छत्तीसगढ़: पुलिस 'मुठभेड़' में आठ नक्सलियों की मौत

  • 16 अप्रैल 2013
सुरक्षाबल (फ़ाइल)
Image caption पुलिस ने माओवादियों के पास से हथियार बरामद होने की बात भी कही है.

छत्तीसगढ़ में पुलिस का कहना है कि सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में आठ नक्सली मारे गए हैं.

ये घटना सुकमा ज़िले की है जो आंध्र प्रदेश और छ्तीसगढ़ की सीमावर्ती इलाका है.

समाचार एजेंसी पीटीआई ने सुकमा के पुलिस अधीक्षक अभिषेक शांडिलया के हवाले से कहा है कि पुलिस को इलाक़े में नक्सलियों के होने की ख़बर मिली थी.

ख़बर की पुष्टि होने के बाद आंध्र प्रदेश की ग्रेहाउंड टुकड़ी और छत्तीसगढ़ पुलिस ने सुबह क्षेत्र में तलाशी का काम शुरू किया.

उन्होंने कहा कि पुलिस बल को देखते ही नक्सलियों ने गोलियां चलानी शुरू कर दीं, पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की.

गढ़

उन्होंने कहा कि मुठभेड़ में आठ विद्रोहियों की मौत हो गई. पुलिस ने घटनास्थल से हथियार मिलने की बात भी कही है.

अबतक पुलिस को छह शव हासिल हो गए हैं, बकिया की तलाश जारी है.

छत्तीसगढ़ देश के गंभीर माओवादी प्रभाव वाले इलाक़ों में है और बस्तर को माओवादियों का मज़बूत गढ़ माना जाता है.

हालांकि पुलिस ने पिछले सालों में इलाक़े में अपनी कार्रवाइयों को तेज़ किया है लेकिन उसे अभी तक कोई बहुत बड़ी सफलता नहीं मिल पाई है.

बीच में वहां स्थानीय लोगों की मदद से सलवा जुडूम कार्यक्रम भी शुरू किया गया था लेकिन उसमें शामिल लोगों के स्थानीय लोगों से ज़ुल्म और ज़्यादतियों की बात सामने आने के बाद सुप्रीम कोर्ट ने इसे सख़्ती से बंद करने का आदेश जारी किया.

संबंधित समाचार