'बच्ची की हालत स्थिर' पर क्या बिता पाएगी सामान्य ज़िंदगी?

  • 20 अप्रैल 2013

दिल्ली के गांधीनगर इलाक़े में पांच साल की एक बच्ची को बंधक बनाकर उसके साथ बलात्कार करने के मामले में शुक्रवार देर रात बिहार के मुज़फ्फरपुर से एक संदिग्ध व्यक्ति को गिरफ्तार कर लिया गया.

इस बीच एम्स के डॉक्टरों ने बताया है कि फिलहाल बच्ची की हालत स्थिर है, वो होश में है और खतरे से बाहर है लेकिन उसे निगरानी में रखा गया है.

हालांकि जब पत्रकारों ने पूछा कि क्या वो बच्ची सामान्य ज़िंदगी बिता पाएगी तो डॉक्टर ने कहा कि ये कहना अभी मुश्किल है.

इस घटना के विरोध में दिल्ली में शनिवार को कई जगह प्रदर्शन हुए. दिल्ली पुलिस के मुख्यालय के बाहर भी प्रदर्शनकारी जमा हुए और नारेबाज़ी की. इनमें कई संगठनों के लोग और आम जनता शामिल थी.

प्रधानमंत्री विचलित

इससे पहले प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने अपने संदेश में कहा था कि पाँच साल की बच्ची के साथ हुई बलात्कार की घटना पर वो काफ़ी विचलित हुए हैं.

अपने ट्विटर बयान में उन्होंने कहा , "पीड़ित बच्ची को हरसंभव चिकित्सा सहायता दी जाएगी."

उन्होंने प्रदर्शन कर रही महिलाओं के ख़िलाफ़ कुछ पुलिस अधिकारियों के व्यवहार को पूरी तरह अस्वीकार्य बताया.

प्रधानमंत्री ने कहा, "समाज को अपने भीतर झाँकने की आवश्यकता है. लोगों को बलात्कार जैसे घिनौने अपराध की मानसिकता को ख़त्म करने के लिए काम करना चाहिए. "

आरोप

आरोप है कि पड़ोसी ने कथित तौर पर इस बच्ची का अपहरण कर लिया था और फिर उसे एक कमरे में बंद करके उसके साथ बार-बार बलात्कार किया था.

पीड़ित बच्ची के परिजनों और पड़ोसियों का आरोप है कि पुलिस ने समय पर कार्रवाई नहीं की, लेकिन पुलिस ने इन आरोपों से इनकार किया है. पुलिस का कहना है कि जैसे ही उन्हें इसकी सूचना मिली, उन्होंने कार्रवाई की.

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार