उत्तराखंड: साथी हाथ बढ़ाना..

उत्तराखंड में बाढ़

उत्तराखंड में भारी बारिश के बाद आई बाढ़ में फंसे लोगों को निकालने के लिए सुरक्षाबल के जवान दिनरात जुटे हैं. इस आपदा में 500 से ज्यादा लोगों के मारे जाने की पुष्टि हो चुकी है जबकि हजारों लोग अब भी जगह-जगह फंसे हैं.

राहत कार्यों में जुटा भारतीय वायुसेना का एक एमआई-17 हेलीकॉप्टर मंगलवार को गौरीकुंड के करीब दुर्घटनाग्रस्त हो गया था. इसमें सवार सभी 20 लोगों के मारे जाने की आशंका है. दुर्घटनास्थल से अब तक 13 शव बरामद हो चुके हैं.

लेकिन इसके बावजूद वायुसेना मुस्तैदी से अपना काम कर रही है और दुर्गम इलाक़ों में फंसे लोगों को निकालने का काम बदस्तूर जारी है.

उत्तर भारत में समय से पहले ही मॉनसून की बारिश ने भारी तबाही मचाई है. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा ने कहा है कि मृतकों की संख्या 1,000 से ज़्यादा हो सकती है.

सेना के जवान पहाड़ी इलाकों में फंसे हजारों लोगों को सुरक्षित स्थानों पर ले जाने के लिए युद्धस्तर पर अभियान चला रहे हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)