तेलंगाना के विरोध में कांग्रेस के सात सांसदों का इस्तीफ़ा

  • 2 अगस्त 2013
कांग्रेस के सांसद
Image caption कांग्रेस के छह लोकसभा सांसद अपना इस्तीफ़ा स्पीकर को सौंपने के बाद.

आंध्र और रायलसीमा क्षेत्रों से संबंध रखने वाले कंग्रेस के छह लोकसभा सदस्यों और एक राज्यसभा सदस्य ने त्यागपत्र दे दिया है .

इसके अलवा हैदराबाद में मुख्य विपक्षी दल तेलुगू देशम के 15 विधायकों ने भी त्यागपत्र दे दिया है. इस तरह कुल मिलाकर 60 विधायक और तीन राज्यमंत्री त्याग पत्र दे चुके हैं.

उधर गुंटूर में कुछ अज्ञात लोगों ने बीजेपी के कार्यालय में आग लगा दी. इस घटना में किसी के घायल होने की ख़बर नहीं है.

जिन छह लोकसभा सांसदों ने इस्तीफ़ा दिया है उनके नाम एल राजगोपाल, के बापीराजू , हर्षा कुमार, साई प्रताप, वी अरुण कुमार और ए वेंकट रामरेड्डी है. जबकि एकमात्र राज्यसभा सांसद का नाम केवीपी रामचंद्र राव है.

इन सभी के इस्तीफ़े की अटकलें गुरुवार से ही लगाई जा रही थीं.

क्या थी अटकलें?

Image caption अलग तेलंगाना राज्य बनाने के खिलाफ आंध्र प्रदेश में राजनीतिक उथल-पुथल जारी है.

अलग तेलंगाना राज्य बनाने के कांग्रेस के फ़ैसले के ख़िलाफ़ आंध्र प्रदेश में राजनीतिक उथल-पुथल जारी है. तेलंगाना के प्रस्तावित गठन के खिलाफ तटीय आंध्र और रायलसीमा क्षेत्र से राज्य सरकार के 15 मंत्रियों ने इस्तीफा देने का ऐलान किया था .

उनमें से केवल तीन ने इस्तीफ़ा दिया है.

तेलंगाना के संघर्ष की दास्तान

इस्तीफ़ा देने वाले एक मंत्री टीजी वेंकटेश ने पत्रकारों से कहा कि उनकी मांग है कि कांग्रेस कार्यसमिति अलग तेलंगाना बनाने के फैसले पर पुनर्विचार करे.

एक मंत्री जी श्रीनिवास राव पहले इस्तीफा दे चुके हैं.

इनके अलावा कांग्रेस के गुंटूर से सांसद आर संबाशिवराव ने 30 जुलाई को अपना इस्तीफा भिजवाया था.

तेलंगाना का विरोध

इसबीच कुछ लोगों ने गुंटूर में बीजेपी के दफ़्तर में आग लगा दी है. पार्टी का दफ़्तर पूरी तरह से जल गया है लेकिन इस घटना मे कोई घायल नहीं हुआ है. बीजेपी अलग तेलंगाना राज्य के गठन की हिमायत करती है.

उधर हैदराबाद में आंध्र और रायलसीमा क्षेत्र से आने वाले कर्मचारियों ने सचिवालय में एक प्रदर्शन कर अपने लिए सुरक्षा की मांग की.

सीमांध्रा क्षेत्र के कई हिस्सों से इंदिरा गांधी और राजीव गांधी की मूर्तियों पर हमले की ख़बरें आ रही हैं.

ताज़ा हमला पश्चिमी गोदावरी ज़िले में राजीव गांधी की प्रतिमा पर हुआ है. आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री किरन कुमार रेड्डी ने चेतावनी दी है कि राष्ट्रीय नेताओं की प्रतिमाओं पर हमला करने वालों के ख़िलाफ़ सख़्त कार्रवाई की जाएगी.

शांति की अपील

Image caption आंध्र प्रदेश में अब तक 60 विधायक और तीन मंत्री त्यागपत्र दे चुके हैं.

तेलंगाना राष्ट्र समिति ने बुधवार को मेडक की सांसद विजयाशांति को पार्टी विरोधी गतिविधियों के आरोप में निलंबित कर दिया था. माना जा रहा है कि विजयाशांति कांग्रेस में शामिल हो सकती हैं.

आंध्र और रायलसीमा क्षेत्रों में आज लागतार तीसरे बंद जारी है. क्रोधित छात्र और सरकारी कर्मचारी व अन्य वर्ग के विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं और रास्तों पर धरना देकर बैठ गए हैं.

गुरुवार को विजयानगरम में तेलंगाना के विरोधियों ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष बी सत्यनारायण के घर का घेराव किया.

श्रीकाकुलम के टेक्काली में केंद्रीय संचार राज्य मंत्री कृपा रानी के घर का भी घेराव किया गया.

उधर मुख्यमंत्री किरण कुमार रेड्डी ने पुलिस अफसरों के साथ बैठक की. उन्होंने लोगों से शांति बनाए रखने की अपील की है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार