भारत-पाक सीमा पर गोलीबारी, एक जवान ज़ख्मी

Image caption भारत-पाक सीमा पर बीएसएफ़ ने सुरक्षा कड़ी कर दी है.

भारत प्रशासित जम्मू कश्मीर के अखनूर सेक्टर में भारत-पाकिस्तान की कानाचक सीमा पर पाकिस्तान की ओर से की गई गोलीबारी में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ़) का एक जवान घायल हो गया है.

सूत्रों के मुताबिक़ घायल जवान का नाम पवन कुमार है. उन्हें जम्मू के मेडिकल कॉलेज अस्पताल में दाखिल कराया गया है.

सूत्रों ने बताया कि कानाचक सीमा पर पाकिस्तान की ओर से रविवार सुबह सात बजकर चालीस मिनट पर गोलीबारी शुरू हुई, जो रुक-रुककर अब भी जारी है.

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि इस साल अब तक यह भारत-पाकिस्तान सीमा पर तीसरा मौका है जब पाकिस्तान की ओर से गोलीबारी हुई है.

फिर गोलीबारी

इससे पहले भारतीय सेना ने कहा कि मंगलवार को पुंछ सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर हुए एक हमले में पाँच भारतीय सैनिकों की मौत हो गई थी. भारत ने इसके लिए पाकिस्तानी सेना को जिम्मेदार ठहराया हालांकि पाकिस्तान ने इन आरोपों को खारिज किया.

इस हमले पर भारत में काफी उग्र प्रतिक्रिया हुई थी. संसद के दोनों सदनों में इस मुद्दे पर सदस्यों ने रोष जताते हुए सरकार ने 'पाकिस्तान को सबक सिखाने' की मांग की थी.

इस हंगामे के बाद लोकसभा में रक्षा मंत्री एके एटंनी ने हमले की निंदा करते हुए कहा था कि हमले में पाकिस्तान सेना के विशेष दस्ते शामिल थे.

उन्होंने कहा था कि भारतीय सेना इस तरह की घटनाओं से निपटने और नियंत्रण रेखा की रक्षा के लिए पूरी तरह से तैयार है.

जम्मू में कर्फ्यू

दूसरी तरफ़ ईद के दिन जम्मू संभाग के किश्तवाड़ में हुई सांप्रदायिक हिंसा के विरोध में भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) की ओर से आयोजित 48 घंटे के बंद के दौरान हुई आगजनी और हिंसा की घटनाओं के बाद जम्मू शहर में कर्फ्यू लगा दिया गया है.

यह बंद शनिवार से शुरू होकर रविवार तक चलने वाला था.

भाजपा किश्तवाड़ की हिंसा के बाद कार्रवाई में देरी करने के आरोप में राज्य के गृह मंत्री के इस्तीफ़े की मांग कर रही है.

पुलिस के मुताबिक़ हिंसा के दौरान शहर के रेहाड़ी इलाक़े में कई गाड़ियों में आग लगा दी गई.

इस देखते हुए प्रशासन ने शहर में कर्फ्यू लगा दिया. इसके साथ ही मोबाइल पर इंटरनेट और इंटरनेट सेवाओं को भी रोक दिया गया है.

किश्तवाड़ ज़िले में शुक्रवार को दो समुदायों के बीच हुई झड़पों में दो लोगों की मौत हो गई थी. इसके बाद प्रशासन ने कई शहरों में कर्फ्यू लगा दिया था. घटना ईद की सुबह उस वक्त हुई जब इलाके के मुसलमान नमाज़ पढ़ने ईदगाहों और मस्जिदों की तरफ़ जा रहे थे.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार