केंद्र सरकार देश की सुरक्षा में सक्षम नहीं: मोदी

  • 11 अगस्त 2013

गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू कश्मीर में नियंत्रण रेखा पर पांच भारतीय सैनिकों की मौत और संघर्षविराम के उल्लंघन के आरोपों पर कहा है कि केंद्र की यूपीए सरकार देश की सुरक्षा में सक्षम नहीं है.

हैदराबाद में एक बड़ी रैली को संबोधित करते हुए उन्होंने ये बात कही. उन्होंने कहा, "दिल्ली की सल्तनत देश को सुरक्षा नहीं दे सकती है. वोट बैंक की राजनीति में डूबी दिल्ली की सल्तनत देश की सुरक्षा को अनदेखा कर रही है."

उन्होंने आरोप लगाया कि कि केंद्र सरकार किसी भी विषय पर गंभीर नहीं है.

शुरुआती भाषण तेलुगु में

भारतीय जनता पार्टी ने नरेंद्र मोदी को आम चुनावों के लिए प्रचार समिति का प्रमुख बनाया है. पार्टी के भीतर उन्हें प्रधानमंत्री पद का उम्मीदवार घोषित करने की मांग लगातार बढ़ रही है.

रविवार को हैदराबाद में हुई इस रैली में शामिल होने के लिए लोगों से पांच रुपए की रजिस्ट्रेशन फीस ली गई. मोदी ने कहा कि वो आंध्र की जनता के बहुत आभारी हैं जिन्होंने पांच रुपए देकर उत्तराखंड के बाढ़ पीड़ितों की मदद के लिए योगदान दिया है.

मोदी ने अपने भाषण की शुरुआत तेलुगु में की.

केंद्र सरकार की तरफ लाए जा रहे खाद्य सुरक्षा विधेयक पर सवाल उठाते हुए मोदी ने कहा, “वाजपेयी की सरकार में गरीब की थाली में रोटी की चिंता नहीं थी, फूड सिक्योरिटी की जरूरत नहीं थी. कांग्रेस ने गरीब की थाली से रोटी छीन ली है.”

उन्होंने तेलंगाना के मुद्दे पर कांग्रेस पर विभाजन की राजनीति को बढ़ावा देने का आरोप लगाया. उन्होंने कहा, “तेलंगाना के पक्ष में भारतीय जनता पार्टी पहले से है. लेकिन सीमांध्र की अनदेखी नहीं की जा सकती है.”

उन्होंने कहा कि कांग्रेस हैदराबाद को संयुक्त राजधानी बनाकर दस साल में नई राजधानी बनाने की बात कर रही है लेकिन ये काम 2004 में शुरू क्यों नहीं किया गया.

उन्होंने कहा कि जब उत्तर प्रदेश, बिहार और मध्य प्रदेश को बांट कर उत्तराखंड, झारखंड और छत्तीसगढ़ बनाए गए तो कोई तनाव नहीं हुआ लेकिन कांग्रेस ने आंध्र प्रदेश में टकराव पैदा किया है.

आडवाणी और शिवराज की तारीफ़

काले धन पर मोदी ने कहा, “आडवाणी जी पूरे भारत में घूमे, काला धन वापस लाओ. कोई हमें समझाए कि विदेशी बैंकों में जो काला धन पड़ा है उसे वापस लाने में दिल्ली सरकार को क्या परेशानी है.”

Image caption कांग्रेस की ओर से तेलंगाना को मिली हरी झंडी के बाद मोदी हैदराबाद में रैली के लिए पहुंचे.

मोदी ने देश की मुश्किल आर्थिक हालत के लिए भी केंद्र सरकार की नीतियों को जिम्मेदार बताया. उन्होंने कहा कि जब चुनाव आते हैं, तभी कांग्रेस वोट पाने के लिए तिजोरी खोल देती हैं.

उन्होंने तमिलनाडु में जयललिता सरकार की भी तारीफ की. इसके अलावा उन्होंने छत्तीसगढ़ में रमन सिंह और मध्य प्रदेश में शिवराज सिंह चौहान की भी तारीफों के पुल बांधे.

दूसरी तरफ भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष राजनाथ सिंह ने जम्मू कश्मीर में नियंत्रण पर रेखा पर संघर्षविराम के कथित उल्लंघन पर केंद्र सरकार को कठघरे में खड़ा किया.

उन्होंने कहा, “48 घंटों में पाकिस्तान ने तीन बार संघर्ष विराम का उल्लंघन किया है. मैं कांग्रेस के नेतृत्व वाली केंद्र की यूपीए सरकार से पूछना चाहता हूं कि पाकिस्तान के साथ बातचीत का सिलसिला कब तक चलता रहेगा.”

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए यहां क्लिक करें. ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)

संबंधित समाचार