अब पुलिसवालों पर लगा 'गैंगरेप' का आरोप

  • 14 अगस्त 2013

उत्तर प्रदेश में मुज़फ्फ़रनगर के निकट शामली ज़िले में एक 30 वर्षीय महिला ने अपने गाँव के थाने में तैनात पुलिस के दो सिपाहियों पर सामूहिक बलात्कार और लूटपाट के आरोप लगाए हैं.

शामली के पुलिस अधीक्षक अब्दुल हमीद ने बीबीसी से हुई बातचीत में कहा कि दोनों पुलिसकर्मियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया गया है.

उन्होंने कहा, "गंगेरु चौकी इलाक़े के तीन घरों में सोमवार रात दो बदमाश घुस आए थे और उन्होंने लूटपाट की. गाँव में एक महिला का आरोप है कि इन दोनों पुलिसवालों ने उनके साथ सामूहिक बलात्कार भी किया. मामले को थाने में दर्ज कर लिया गया है और तहकीकात जारी है.".

पुलिस अधिकारी के अनुसार इस महिला की मेडिकल जांच करा ली गई है लेकिन रिपोर्ट में कहा गया है कि 'कोई भी निश्चित राय कायम कर पाना अभी मुश्किल है."

अब्दुल हमीद ने इस बात पर ख़ासा ज़ोर दिया कि अभी ये सभी आरोप हैं और मामले की विस्तृत जांच के बाद ही कुछ कह पाना संभव होगा.

हालांकि उन्होंने प्रशासन की तरफ़ से भरोसा दिलाया कि अगर ये पुलिसकर्मी दोषी पाए जाएँगे तो पूरी क़ानूनी कार्रवाई होगी.

विरोध

Image caption भारत में बलात्कार के दर्ज होने वाले मामलों में गिरावट नहीं दिखी है.

ख़बरों में बताया गया है कि घटना के बाद स्थानीय लोगों ने पुलिस थाने का घेराव कर के विरोध प्रदर्शन भी किया है.

इस बीच इन दोनों निलंबित पुलिसकर्मियों को पुलिस लाइन भेज दिया गया है.

ग़ौरतलब है कि पिछले वर्ष दिल्ली में एक छात्रा के सामूहिक बलात्कार और हत्या की घटना के बाद से भारत में सख़्त कानून बनाने और मौजूदा क़ानून में संशोधन की लंबी बहस जारी रही.

हालांकि आंकड़ों के अनुसार भारत भर में इस जैसी तमाम घटनाओं के बाद भी बलात्कार के दर्ज होने वाले मामलों में गिरावट नहीं दर्ज की जा सकी है.

(बीबीसी हिंदी का एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें. आप ख़बरें पढ़ने और अपनी राय देने के लिए हमारे फ़ेसबुक पन्ने पर भी आ सकते हैं और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

बीबीसी न्यूज़ मेकर्स

चर्चा में रहे लोगों से बातचीत पर आधारित साप्ताहिक कार्यक्रम

सुनिए

संबंधित समाचार