'माओवादी हमले' बीएसएफ के चार जवानों की मौत

उड़ीसा
Image caption इसे राष्ट्रीय राजमार्ग पर माओवादियों का पहला हमला माना जा रहा है

ओडिशा के कोरापुट ज़िले में मंगलवार सुबह संदिग्ध माओवादियों द्वारा किए गए एक विस्फोट में सीमा सुरक्षा बल के चार जवानों की मौत हो गई और दो अन्य गंभीर रूप से घायल हो गए.

विस्फोट में चार जवानों के मारे जाने की पुष्टि करते हुए राज्य के पुलिस महानिदेशक प्रकाश मिश्र ने कहा कि घटना के बारे में ख़बर मिलते ही कोरापुट से पुलिस की एक टीम घटनास्थल के लिए रवाना हो गई है.

उन्होंने कहा कि इस हमले के पीछे माओवादियों का हाथ हो सकता है.

घायल जवानों को सुनकी के अस्पताल में भर्ती किया गया है. लेकिन हालत गंभीर होने के कारण उन्हें विशाखापट्नम स्थानांतरित करने की कोशिश की जा रही है.

यह घटना सुबह करीब साढ़े सात बजे राष्ट्रीय राजमार्ग नंबर 26 पर सुनकी घाटी के रालेगडा में हुई.

उस समय बीएसएफ़ की 161वीं बटालियन के 18 जवान तीन गाड़ियों में सवार हो कर कोरापुट से विशाखापट्नम जा रहे थे.

विस्फोट में एक गाड़ी के परखच्चे उड़ गए जबकि बाकी दो गाड़ियां बाल बाल बच गईं.

बताया जाता है कि ये पहला मौका है जब माओवादियों ने किसी राष्ट्रीय राजमार्ग पर विस्फोट किया है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकतें हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार