आसाराम एक दिन की पुलिस रिमांड पर

जोधपुर की एक स्थानीय अदालत ने यौन दुर्व्यवहार के आरोपों में घिरे धार्मिक गुरु आसाराम को एक दिन की पुलिस रिमांड पर भेज दिया है.

इस बीच जांच दल में शामिल एक पुलिस अधिकारी ने बीबीसी को बताया कि आसाराम बापू मर्दानगी के परीक्षण में खरे उतरे हैं.

पुलिस इसका उपयोग ये साबित करने में करेगी कि वे शारीरिक संबंध बनाने में सक्षम हैं.

रविवार शाम उन्हें घटनास्थल पर ले जाया गया और घटना का फिर से चित्र बनाने में मदद ली गई. कल यानी सोमवार को उन्हें अदालत में पेश किया जाएगा.

इससे पहले उन्हें इंदौर से गिरफ्तार कर रविवार को जोधपुर लाया गया और अदालत में पेश किया गया.

पुलिस ने उनकी दो दिन की रिमांड मांगी थी लेकिन अदालत एक ही दिन की रिमांड दी है.

पुलिस के मुताबिक आसाराम जांच में सहयोग कर रहे हैं लेकिन वो आरोपों से इनकार कर रहे हैं.

मेडिकल जांच

एक नाबालिग लड़की ने आसाराम पर बलात्कार का आरोप लगाया है.

पुलिस ने बताया कि आसाराम की मेडिकल जांच कराई गई है और वो पूरी तरह से स्वस्थ हैं. वो ठीक से खाना खा रहे हैं और उन्हें कोई दिक्कत नहीं बताई गई है.

पुलिस के अनुसार आसाराम ने उसके सवालों के संतोषजनक जबाव नहीं दिए, इसीलिए उन्हें गिरफ्तार किया गया है.

दो दिन तक पुलिस के साथ आँख मिचौली के बाद आसाराम को पुलिस ने शनिवार आधी रात इंदौर में गिरफ्तार किया था. उन्हें तब गिरफ्तार किया गया जब वे 'इह लोक' और 'पर लोक' पर प्रवचन के बाद अपने आश्रम में विश्राम करना चाहते थे.

इससे पहले शनिवार को उनके समर्थकों ने जोधपुर में उत्पात मचाया और मीडियाकर्मियों पर हमला कर दिया था. इसके बाद पुलिस ने सख्ती दिखाई और आश्रम को सील कर दिया.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार