अयोध्याः पाबंदी तोड़ने पर उतारू विहिप नेता गिरफ़्तार

अयोध्या, पुलिस, सीआरपीएफ

उत्तर प्रदेश में संकल्प यात्रा के मौके पर अयोध्या जा रहे विश्व हिन्दू परिषद के कई नेताओं की गिरफ्तारी की गई है. ताज़ा घटनाओं के मद्देनज़र पूरे जिले में बड़ी मात्रा में सुरक्षाबलों और पुलिस की तैनाती की गई है.

स्थानीय पत्रकार अरशद अफ़ज़ाल ख़ान के अनुसार अयोध्या जाने वाले विहिप कार्यकर्ताओं को रोके जाने के कारण कई स्थानों पर उनकी पुलिस के साथ झड़प भी हुई है.

पिछली 84 कोसी यात्रा पर अखिलेश सरकार की ओर से रोक लगाए जाने के बाद एक बार फिर विहिप और प्रशासन आमने-सामने है.

विहिप संकल्प यात्रा पूरी करने पर अड़ी हुई है.

स्नान पर रोक नहीं

प्रशासन ने संकल्प यात्रा के चलते सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हैं.

उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से संकल्प यात्रा पर रोक लगाए जाने के बाद विहिप और भाजपा के बड़े नेताओं को सख्त चेतावनी दी गई है.

प्रशासन ने जिले की सीमाएं सील कर दी हैं. जिले के बाहर से किसी को नहीं आने दिया जा रहा है.

वहीं काशी से बड़ी संख्या में विहिप कार्यकर्ताओं के अयोध्या पहुंचने की उम्मीद है.

हालांकि शरद पूर्णिमा पर स्नान करने पर रोक नहीं है, लेकिन बाहरी लोगों को स्नान के लिए नहीं आने दिया जा रहा है.

100 से अधिक गिरफ्तार

इससे पहले बृहस्पतिवार को विहिप के सौ से अधिक नेताओं की गिरफ्तारियां की गई. इनमें विहिप और भाजपा के कई प्रमुख नेता शामिल हैं.

पुलिस टीमें लगातार ऐसे लोगों की धरपकड़ कर रही हैं. इसके लिए जगह-जगह छापे मारे गए.

वहीं कारसेवकपुरम में भी पत्रकारों के पहुंचने पर प्रतिबंध लगा रखा है. यहां विहिप औप भाजपा कार्यकर्ताओं का आना जारी है.

सख्ती के निर्देश

प्रशासन का कहना है कि यदि विहिप और भाजपा के नेता यहां आने की कोशिश करेंगे तो उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा और उन पर सख्त कार्रवाई की जाएगी.

शरद पूर्णिमा के मौके पर आम लोगों को तकलीफ न हो इसका ध्यान रखते हुए संकल्प सभा करने वालों को सख्ती से रोका जाएगा.

उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य के अन्य जिलों में भी जिलाधिकारियों को स्थिति से सख्ती से निपटने के निर्देश दिए गए हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार