आंध्र प्रदेश में भारी बारिश, 12 की मौत

  • 25 अक्तूबर 2013

पूर्वोत्तर में आए मॉनसून और बंगाल की खाड़ी में बने दबाव के चलते आंध्र प्रदेश में लगातार चार दिन से भारी बारिश में 12 लोगों की मौत हो गई है.

समाचार एजेंसी पीटीआई के मुताबिक बारिश की वजह से बड़े पैमाने पर फ़सलें भी बर्बाद हो गई हैं.

इस भारी बारिश की वजह से प्रशासन ने एहतियाती कदम उठाते हुए निचले इलाकों में रहने वाले लोगों को वहां से हटा दिया है.

राज्य के निचले इलाकों खासतौर पर तटीय आंध्र प्रदेश और रायलसीमा के शहर और गांवों में पानी भरा हुआ है. लगातार चार दिन से हो रही बारिश की वजह से सैकड़ों घर बर्बाद हो गए हैं.

इस बीच जहां लोग बेघर हो गए हैं वहीं दूसरी ओर हजारों लोगों को उनके घर से निकालकर आपात राहत शिविरों में स्थानांतरित कर दिया गया है.

स्थिति

Image caption लगातार हो रही बारिश की वजह से कई लोगों को अपना घर छोड़ना पड़ा है.

गुंटूर जिले के कलेक्टर एस सुरेश कुमार ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया,'' डेल्टा इलाकों में स्थिति काफी खराब है और पानी में डूब गए हैं. नालियों और टैंकों के ऊपर से पानी बह रहा है और बिना रुके हो रही बारिश से कई इलाकों में तटबंधों के टूटने की आशंका है.''

गुंटूर इलाके में उन 11,000 लोगों के लिए 36 राहत शिविर खोले गए हैं जिन्हें अपना घर छोड़ना पड़ा है.

बाढ़ के पानी की वजह से कृष्णा नदी में पानी का स्तर बढ़ रहा है. श्रीकाकुलम जिले में 45,000 लोग राहत शिविर में रखे गए हैं.

बारिश की वजह से बस और ट्रेन की सेवाएं भी प्रभावित हुई हैं.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार