सुकमा में बारूदी सुरंग फटी, दो जवानों समेत तीन की मौत

सुकमा छत्तीसगढ़ जवान बारूदी सुरंग

छत्तीसगढ़ के नक्सल प्रभावित सुकमा ज़िले में बारूदी सुरंग फटने से बीएसएफ़ के दो जवान मारे गए हैं. हमले में उस वाहन के ड्राइवर की भी मौत हो गई है जो बारूदी सुंरग फटने से क्षतिग्रस्त हुआ.

इस हमले में कुछ अन्य लोगों के भी घायल होने की भी ख़बर है.

इस हमले के अलावा बस्तर के कई अन्य इलाक़ों में पुलिस और नक्सलियों के बीच गोलीबारी और हमले की ख़बर है.

छत्तीसगढ़ में सोमवार को बस्तर और राजनांदगांव की 18 सीटों पर विधानसभा चुनावों के लिए मतदान हुआ था, जहां बड़ी संख्या में सुरक्षाबल तैनात किए गए थे.

चुनाव के बाद मंगलवार को सुकमा के अंदरूनी इलाक़े से बीएसएफ़ के जवान नागरिक वाहन से लौट रहे थे.

मांझीपारा-बड़ेसेट्टी मार्ग पर एक पुल के नीचे बारूदी सुरंग का विस्फोट हुआ. बीएसएफ़ के जवानों वाला वाहन इस विस्फोट की चपेट में आ गया.

पुलिस सूत्रों के अनुसार इस विस्फोट में वाहन के चालक समेत बीएसएफ़ के दो जवान मारे गए.

Image caption छत्तीसगढ़ में सोमवार को विधानसभा के पहले चरण के लिए मतदान हुआ था.

जिस स्थान पर विस्फोट हुआ है, पिछले साल 21 अप्रैल को उससे कुछ ही दूर पर नक्सलियों ने सुकमा के कलेक्टर एलेक्स पॉल मेनन का अपहरण किया था.

मुठभेड़

बस्तर के चिंतागुफा के पास भी नक्सलियों और सीआरपीएफ़ के बीच मुठभेड़ की ख़बर है.

ज़िले के एसपी अजय यादव ने बताया, “सीआरपीएफ़ का एक दल चिंतागुफा के पास से गुज़र रहा था, उसी समय नक्सलियों ने गोलीबारी शुरू कर दी."

उन्होंने बताया कि नक्सलियों के हमले में सीआरपीएफ़ के एक डिप्टी कमांडेट की जांघ में गोली लगी है. उन्हें आरंभिक इलाज के बाद रायपुर भेज दिया गया है.

कांकेर ज़िले के पखांजूर के पास भी नक्सलियों और पुलिस के बीच मुठभेड़ की ख़बर है.

राज्य के पुलिस महानिदेशक रामनिवास ने माना कि नक्सल प्रभावित बस्तर के 12 विधानसभा सीटों पर चुनाव के बाद सुरक्षा बल की सुरक्षित वापसी चुनौतीपूर्ण काम है.

उन्होंने कहा, “हमने बेहतर तरीके से चुनाव संपन्न कराया है और अब सुरक्षित तरीक़े से जवानों की वापसी भी होगी.”

बस्तर में सुरक्षा बलों की 33 बटालियन पहले से तैनात हैं. इसके अलावा विधानसभा की 18 सीटों पर सुरक्षित मतदान के लिए पुलिस के साथ ही सुरक्षाबलों की 507 कंपनियों को तैनात किया गया था.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार