अमीर नेता माँ बेटी के आगे रजवाड़े भी फीके

टी कामिनी जिंदल श्रीगंगानगर से जमींदारा पार्टी की उम्मीदवार हैं और मां विमला देवी हनुमानगढ़ जिले की संगरिया सीट से इसी पार्टी की प्रत्याशी हैं.
Image caption टी कामिनी जिंदल श्रीगंगानगर से जमींदारा पार्टी की उम्मीदवार हैं और मां विमला देवी हनुमानगढ़ जिले की संगरिया सीट से इसी पार्टी की प्रत्याशी हैं.

राजस्थान की सियासत में अब सब कुछ सूखा-सूखा और शाही राजघरानों की कहानियां ही नहीं हैं.

इस प्रदेश में अब अमीर महिलाओं का जलवा भी है. सबसे ज्यादा चर्चा में आया मामला दो अरबपति मां बेटी का है, जो श्रीगंगानगर और हनुमानगढ़ जिलों की दो सीटों से उम्मीदवार हैं.

चुनाव आयोग को दिए गए संपत्ति के विवरण के अनुसार इन दोनों की संपत्ति 2959 करोड़ है.

बेटी कामिनी जिंदल श्रीगंगानगर से जमींदारा पार्टी की उम्मीदवार हैं और मां विमला देवी हनुमानगढ़ जिले की संगरिया सीट से इसी पार्टी की प्रत्याशी हैं.

राजस्थान में अब तक या तो राजसी घरानों के लोगों के पास ज्यादा संपत्ति रही है या फिर शराब व्यावसायी इतने बड़े धनकुबेर रहे हैं.

ये दोनों मां-बेटी इस समय प्रदेश की सबसे धनी उम्मीदवार हैं.

इस कदर अमीरी

विमला जिंदल की कुल संपत्ति 2762 करोड़ रुपए है.

इसमें चल संपत्ति 276 करोड़ 88 लाख और अचल संपत्ति 929.16 करोड़ रुपए की है. इसमें उनके पति बीडी अग्रवाल की संपत्ति 1588 करोड़ रुपए है.

Image caption वसुंधरा राजे की संपत्ति 4.12 करोड़ रुपए है.

कामिनी जिंदल की संपत्ति 197 करोड़ रुपए है. उनके पति राजस्थान काडर के आईपीएस गगनदीप सिंगला हैं.

सिंगला की संपत्ति 19.52 लाख रुपए है.

कामिनी की चल संपत्ति 2.66 करोड़ रुपए और अचल संपत्ति 194.70 करोड़ रुपए है.

कामिनी जिंदल की संपत्ति में 53 लाख 50 हजार रुपए की एक बीएमडब्लू और 25 लाख 59 हजार रुपए की फ़ॉरच्युनर है.

उनके पास एक करोड़ 32 लाख का सोना और छह लाख 44 हज़ार की एक बेशकीमती घड़ी है.

इसके अलावा ज़्यादातर संपत्ति में कृषि भूमि और आवासीय भूखंड हैं.

विमला देवी के पास कृषि भूमि, डिबेंचर, शेयर्स, विरासती संपत्ति है.

विमला देवी के ख़िलाफ़ जोधपुर सीबीआई में धोखाधड़ी का एक मामला भी दर्ज है.

इनसे ज़रा पीछे

राजस्थान के अन्य धनकुबेर उम्मीदवारों में भाजपा के नीम का थाना विधानसभा क्षेत्र से उम्मीदवार प्रेमसिंह बाजौर (87 करोड़), निंबाहेड़ा से कांग्रेस के उम्मीदवार (65.55 करोड़) और सीकर से राष्ट्रवादी कांग्रेस के प्रत्याशी वाहिद चौहान (61.88 करोड़) हैं.

अमीरी का यह जलवा कई अन्य उम्मीदवारों के इर्दगिर्द भी है, लेकिन उन्होंने संपत्ति बहुत ज्यादा नहीं दर्शाई है.

राज्य के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और नेता प्रतिपक्ष वसुंधरा राजे की संपत्तियां भी इन दिनों चर्चा का विषय बनी हुई हैं.

गहलोत की संपत्ति 1.69 करोड़ रुपए और वसुंधरा राजे की संपत्ति 4.12 करोड़ रुपए है.

गहलोत ने पिछले पांच साल में सोने की सिर्फ दो बालियां खरीदी हैं.

वसुंधरा के पास तीन किलो 179 ग्राम सोना और 10 किलो चांदी है.

गहलोत के पास सिर्फ पांच ग्राम सोना है.

(बीबीसी हिन्दी के एंड्रॉएड ऐप के लिए यहां क्लिक करें. आप हमें फ़ेसबुक और ट्विटर पर भी फ़ॉलो कर सकते हैं.)

संबंधित समाचार